S M L

इंद्राणी की तबीयत खराब, ड्रग्स ओवरडोज का शक

इंद्राणी मुखर्जी को जब अस्पताल लाया गया, तब उनकी हालत बहुत खराब थी

FP Staff Updated On: Apr 07, 2018 04:40 PM IST

0
इंद्राणी की तबीयत खराब, ड्रग्स ओवरडोज का शक

शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी की शुक्रवार देर रात तबियत बिगड़ गई. उन्हें इलाज के लिए मुंबई के जेजे अस्पताल लाया गया है. डॉक्टरों के मुताबिक, इंद्राणी मुखर्जी की हालत नाजुक है. इसलिए उन्हें क्रिटिकल केयर यूनिट (सीसीयू) में शिफ्ट किया गया है.

सूत्रों के मुताबिक, इंद्राणी मुखर्जी को जब अस्पताल लाया गया, तब उनकी हालत बहुत खराब थी. सूत्रों का कहना है कि इंद्राणी ने सुसाइड के उद्देश्य से किसी दवा की ओवरडोज ली है. डॉक्टरों ने उनके कई टेस्ट कराए हैं. फिलहाल इसकी रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. बता दें कि इसके पहले साल 2015 में इंद्राणी मुखर्जी अस्पताल में भर्ती हो चुकी हैं. तब उन्होंने मेडिसिन की ओवरडोज ली थी. करीब 10 दिन इलाज के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिली थी.

अंग्रेजी अखबार 'टाइम्स ऑफ इंडिया' की खबर के मुताबिक, जेजे अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. संजय सुरसे ने कहा कि इंद्राणी मुखर्जी की हालत पर लगातार नज़र रखी जा रही है. उन्हें इमरजेंसी वार्ड से क्रिटिकल केयर यूनिट में शिफ्ट किया गया है. डॉक्टरों की एक टीम दोपहर बाद उनका सीटी स्कैन करेगी. जिसके बाद कोई मेडिकल अपडेट दिया जा सकता है.

वकील को नहीं मिली इंद्राणी से मिलने की इजाजत

इस बीच इंद्राणी मुखर्जी की वकील गुंजन मंगला ने जेजे अस्पताल पहुंची. लेकिन, अस्पताल प्रशासन ने उन्हें इंद्राणी मुखर्जी से मिलने की इजाजत नहीं दी. अस्पताल प्रशासन का कहना था कि इंद्राणी से मिलने के लिए उनके वकील को पहले जेल अथॉरिटी से परमिशन लेनी होगी.

काफी बदल गया है इंद्राणी का चेहरा

कभी ऐशो आराम की जिंदगी जीने वाली इंद्राणी मुखर्जी जेल में जाने के बाद बदल गई हैं. हमेशा स्टाइल में रहने वाली इंद्राणी मुखर्जी के बालों से कलर खत्म हो चुका है. उनके बाल सफेद हो चुके हैं. चेहरे पर झुर्रियां साफ देखा जा सकता है. वो पहले से कहीं ज्यादा कमजोर हो चुकी हैं.

शीना बोरा की हत्या के मामले में 2015 से जेल में बंद है इंद्राणी

पूर्व मीडिया मालकिन इंद्राणी अपने पति पीटर मुखर्जी के साथ शीना बोरा की हत्या के मामले में 2015 से जेल में बंद है. शीना की हत्या को अंजाम 2012 में एक कार में दिया गया था. लेकिन मामला तीन साल बाद दुनिया के सामने आया जब इंद्राणी के ड्राइवर को गिरफ्तार किया गया था.

ड्राइवर ने किया था मर्डर का खुलासा

ड्राइवर श्यामवर राय के मुताबिक इंद्राणी ने स्काइप पर उससे बात की थी और कहा था कि वह शीना और मिखाइल को मारना चाहती है क्योंकि वो उन्हें धमकी दे रहे थे कि, वो दुनिया को बता देंगे कि वे उसके बच्चे हैं न कि उसके भाई बहन. इसके अलावा ड्राइवर राय ने बताया कि शीना ने इंद्राणी से अपस्केल पाली हिल पर तीन बेडरूम फ्लैट, एक कार और एक डायमंड रिंग की मांग की थी.

इसलिए हुई शीना की हत्या

उसने बताया कि दोनों के बीच कुछ संपत्ति विवाद भी थे. इसके अलावा इंद्राणी शीना के सौतेले भाई राहुल के साथ उसके रिश्ते से भी नाखुश थी. इसी वजह से तीनों ने मिलकर शीना को मौत के घाट उतारने की साजिश रची. इसके एवज में इंद्राणी ने ड्राइवर के बच्चों की पढ़ाई का खर्च, मेडिकल खर्च उठाने का वादा किया और पूरी जिंदगी उसे नौकरी पर बनाए रखने का भरोसा दिया था.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi