S M L

इंदौर: सोशल मीडिया पर शिक्षिका का यौन उत्पीड़न करने वाला छात्र गिरफ्तार

पीड़ित शिक्षिका जब आरोपी के एक नम्बर को ब्लॉक करती, तो वह उसे दूसरे नम्बर से अश्लील कॉलिंग शुरू कर देता. कई बार वह वीडियो कॉल के समय निर्वस्त्र भी हो जाता

Updated On: Dec 21, 2018 06:48 PM IST

Bhasha

0
इंदौर: सोशल मीडिया पर शिक्षिका का यौन उत्पीड़न करने वाला छात्र गिरफ्तार

मध्यप्रदेश में सोशल मीडिया पर यौन उत्पीड़न के अपनी तरह के पहले मामले का खुलासा करते हुए पुलिस के साइबर दस्ते ने 19 वर्षीय छात्र को शुक्रवार को गिरफ्तार किया. छात्र एक मोबाइल ऐप्लिकेशन के जरिए वर्चुअल नम्बरों से 25 वर्षीय शिक्षिका को वॉट्सऐप पर अश्लील वीडियो कॉल कर लम्बे समय से परेशान कर रहा था.

राज्य साइबर सेल की इंदौर इकाई के पुलिस अधीक्षक जितेंद्र सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि आरोपी की पहचान रोहित सोनी उर्फ गोलू (19) के रूप में हुई है. वह मूलत: राजस्थान के भीलवाड़ा जिले का रहने वाला है और इन दिनों कोटा के एक कोचिंग संस्थान के जरिए मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहा है.

गूगल प्लेस्टोर से डाउनलोड किया था एप:

सिंह ने बताया कि गूगल प्लेस्टोर से डाउनलोड किए गए एक खास मोबाइल ऐप के जरिए सोनी इंदौर निवासी शिक्षिका को पिछले तीन महीने से वॉट्सऐप पर अश्लील वीडियो कॉल कर रहा था. साथ ही, वह उसे भद्दे मैसेज भी भेज रहा था.

उन्होंने बताया, 'यह ऐप उपयोगकर्ताओं को विदेशों के वर्चुअल नम्बर चुनने की सुविधा प्रदान करता है. यानी आरोपी दरअसल अपने ही मोबाइल फोन से शिक्षिका को वॉट्सऐप पर अश्लील वीडियो कॉल कर रहा था. लेकिन इस दौरान पीड़ित युवती के मोबाइल फोन पर प्रदर्शित हो रहा था कि यह कॉल अमेरिकी कोड वाली सीरीज के नंबर से किया गया है.'

ये भी पढ़ें: तंदूर हत्याकांड में सजा काट रहे सुशील शर्मा को दिल्ली HC ने दी रिहाई

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पीड़ित शिक्षिका जब आरोपी के एक नम्बर को ब्लॉक करती, तो वह उसे दूसरे नम्बर से अश्लील कॉलिंग शुरू कर देता. कई बार वह वीडियो कॉल के समय निर्वस्त्र भी हो जाता. परेशान युवती ने आखिरकार छह सितंबर को राज्य साइबर सेल में शिकायत दर्ज करायी.

सिंह ने बताया, 'शातिर आरोपी हमारी जांच के दौरान लगातार अपने मोबाइल नंबर बदल रहा था. हमने वॉट्सऐप को छह बार कानूनी अनुरोध भेजकर संबंधित जानकारी साझा करने को कहा. जब इसके बावजूद हमें जानकारी नहीं दी गयी, तो आखिरकार हमने वॉट्सऐप के अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित मुख्यालय से संपर्क कर कम्पनी के अधिकारियों को प्रकरण की गंभीरता से अवगत कराया. तब जाकर हमें जानकारी प्राप्त हुई.'

आरोपी ने स्वीकार की अपनी करनी:

पुलिस अधीक्षक ने कहा, 'आरोपी ने पूछताछ में स्वीकार किया कि वह अश्लील फिल्में देखने के बाद महिलाओं को परेशान करता था. वह वॉट्सऐप पर अपना शिकार महिलाओं की डीपी (डिस्प्ले पिक्चर) के आधार पर चुनता था.'

सिंह ने बताया कि सोनी के खिलाफ भारतीय दंड विधान और आईटी अधिनियम की सम्बद्ध धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है. वारदात में प्रयुक्त मोबाइल फोन व इसमें लगा सिम कार्ड उससे बरामद किया गया है.

ये भी पढ़ें:

तंदूर हत्याकांड: सुशील शर्मा हुआ रिहा, जानिए इस मामले की पूरी टाइम लाइन

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi