S M L

जाधव को पत्नी से मिलने की इजाजत भारत की कूटनीतिक जीत

जितेंद्र सिंह ने कहा कि भारत के विचार को अब दुनिया भर में अधिक से अधिक स्वीकार्यता मिल रही है

Updated On: Nov 11, 2017 06:34 PM IST

Bhasha

0
जाधव को पत्नी से मिलने की इजाजत भारत की कूटनीतिक जीत

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि कुलभूषण जाधव को उसकी पत्नी से मिलने की इजाजत देने वाला पाकिस्तान का फैसला भारतीय कूटनीतिक जीत कही जा सकती है. ये भारत की क्षमता और दुनिया भर में इसकी स्वीकार्यता को जाहिर करता है.

सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे लगता है कि ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना है. ये (घटनाक्रम) निश्चित तौर पर भारत की कूटनीतिक पहुंच की क्षमता की सराहना है.’

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने शुक्रवार को कहा कि जाधव को उसकी पत्नी से पाकिस्तानी सरजमीं पर मिलने की इजाजत दी जाएगी.

नई दिल्ली ने किया था इस्लामाबाद से मिलाने का अनुरोध 

गौरतलब है कि कुछ ही महीने पहले नई दिल्ली ने इस्लामाबाद से अनुरोध किया था कि जाधव की मां या पत्नी को उनसे मानवीय आधार पर मिलने की इजाजत दी जाए.

प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री ने कहा, ‘पाकिस्तान से आतंकवाद और कश्मीर में प्रायोजित आतंकवाद पर मोदी सरकार की एक बड़ी उपलब्धि ये है कि भारत के विचार को अब दुनिया भर में अधिक से अधिक स्वीकार्यता मिल रही है.

साथ ही, यह स्वीकार्यता उन देशों से भी मिल रही है जो पहले हिचकते थे और जिनके पास इसे स्वीकार नहीं करने का अपना खुद का कारण था.

कश्मीरी युवाओं के सामने अलगाववादी बेनकाब हो चुके हैं 

कश्मीर मुद्दे के हल के लिए किसी वार्ता में पाकिस्तान को शामिल करने की घाटी के अलगाववादियों की मांग से जुड़े सवाल पर सिंह ने कहा कि उन्होंने कहा, ‘हम में से किसी को भी इस पर फैसला करने का अधिकार नहीं है.’

पड़ोसी देश से बात करने का फैसला विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय का प्राधिकार है. हालांकि, उन्होंने कहा कि अलगाववादियों का रूख घाटी के युवाओं के सामने बेनकाब हो गया है.

घाटी के युवाओं ने भारत की विकास यात्रा में शामिल होने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि 19 लड़के-लड़कियां कश्मीर से इस साल आईआईटी के लिए चुने गए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi