S M L

पिछले 15 साल में भारतीय रुपए का यह सबसे अच्छा दौर है: पीयूष गोयल

पिछले 5 सालों में इसके मूल्य में केवल 7 फीसदी की ही गिरावट आई है, भारतीय करेंसी के लिए मौजूदा वक्त सबसे अच्छा वक्त है

Updated On: Oct 06, 2018 01:11 PM IST

FP Staff

0
पिछले 15 साल में भारतीय रुपए का यह सबसे अच्छा दौर है: पीयूष गोयल

डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया के मूल्य में आई गिरावट के ऊपर टिप्पणी करते हुए शुक्रवार को 'हिंदुस्तान लीडरशिप समिट' में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इससे परेशान होने की जरूरत नहीं है. पिछले 15 साल के दौरान भारतीय रुपए का यह सबसे अच्छा दौर है.

बीते शुक्रवार को कारोबार के दौरान भारतीय रुपया 74 रु प्रति डॉलर से भी नीचे चला गया था. यह रुपए का अबतक का निम्नतम स्तर है. इस बीच समिट में अर्थव्यवस्था की मौजूदा हालत पर बोलते हुए गोयल ने कहा, यह गिरावट सामान्य है. इस गिरावट के बाद भी तो रुपया मजबूत हुआ है. पिछले 5 सालों में इसके मूल्य में केवल 7 फीसदी की ही गिरावट आई है. भारतीय करेंसी के लिए मौजूदा वक्त सबसे अच्छा वक्त है. इसे रुपए का सुनहरा दौर कह सकते हैं.'

रुपए में भारी गिरावट के बाद भी रिजर्व बैंक ने अपनी मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक में नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं किया है. केंद्रीय बैंक द्वारा मौद्रिक नीति की घोषणा के बाद रुपया 55 पैसे टूटकर 74.13 प्रति डॉलर के नए सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंच गया.

रुपए में गिरावट की वजह से तेल आयात समेत आयात का बिल भी बढ़ रहा है

आरबीआई की मौद्रिक नीति समीक्षा आने से पहले शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया छह पैसे की मजबूती के साथ 73.52 पर खुला था. गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 24 पैसे यानी 0.33% टूटकर 73.58 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर बंद हुआ था.

रुपए में गिरावट की वजह से तेल आयात समेत आयात का बिल भी बढ़ रहा है. इसपर चिंता जाहिर करते हुए केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि भारत आर्थिक संकट का सामना कर रहा है. उन्होंने 2 टीवी चैनलों से बातचीत में कहा था कि तेल के बहुत ज्यादा आयात और रुपए में लगातार गिरावट की वजह से देश आर्थिक संकट का सामना कर रहा है.

क्रूड की कीमतों में बढ़ोतरी से डॉलर कमजोर हुआ है. मंगलवार को क्रूड ने 85 डॉलर का स्तर पार किया और 85.32 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया, जो 4 साल में सबसे ज्यादा है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमतें लगातार ऊंची बनी हुई हैं, एक्सपर्ट का मानना है कि आने वाले दिनों में डॉलर के मुकाबले रुपये 75 का स्तर पार सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi