S M L

सिर्फ 7 घंटे में रेलवे ने पुराने को तोड़कर बनाया नया पुल

नजीबाबाद-मुरादाबाद रेललाइन के बीच बुंदकी स्टेशन के पास डाउन लाइन का पुल सौ साल से ज्यादा पुराना था

Updated On: Jan 05, 2018 04:47 PM IST

FP Staff

0
सिर्फ 7 घंटे में रेलवे ने पुराने को तोड़कर बनाया नया पुल

भारतीय रेलवे ने यूपी में महज साथ घंटों में नया ब्रिज बनाकर टीम वर्क की मिसाल पेश कर दी है. पहले इस पुल पर ट्रेनें धीमी गति से गुजरती थीं. नजीबाबाद-मुरादाबाद रेललाइन के बीच बुंदकी स्टेशन के पास डाउन लाइन का पुल सौ साल से ज्यादा पुराना था. इसे बनाकर रेलवे के इंजीनियरिंग विभाग ने काबिल-ए-तारीफ काम किया है.

रेलवे की टीम ने सात घंटे में पुराने पुल को तोड़कर उसकी जगह तीन जनवरी को नया पुल बनाया. नए पुल से सबसे पहले देहरादून से इलाहाबाद जाने वाली लिंक एक्सप्रेस सफलतापूर्वक गुजरी. पहले बुंदकी स्टेशन के नजदीक डाउन लाइन पर बने पुराने पुल पर गुजरने के दौरान ट्रेनों की गति बहुत धीमी रखी जाती थी.

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, तीन जनवरी की सुबह 9.35 बजे प्रवर मंडल अधीक्षण अभियंता प्रथम पारितोष गौतम तकनीकी स्टाफ के साथ वहां पहुंचे. फिट पूरी टीम के साथ फिर पुल के ऊपर बनी रेल लाइन को हटाने, पुराने पुल को तोड़ने और मलबा हटाने का काम दोपहर 1.24 बजे तक पूरा कर दिया गया. फिर शुरू हुआ नया पुल बनाने का काम. दोपहर तीन बजे तक फैब्रिकेटिंग मैटेरियल से पुल का ढांचा रख दिया गया.

सात घंटे 20 मिनट बाद शाम सवा पांच बजे के क़रीब नए पुल पर लाइन डालने का काम पूरा हो गया. शाम 5.40 बजे देहरादून से इलाहाबाद जाने वाली लिंक एक्सप्रेस को धीमी गति से नए पुल से गुज़ारा गया. मंडल रेल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल ने उम्मीद जताई है कि अब बुंदकी से गुजरनी वालीं ट्रेनें सौ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकेंगी.

(साभार न्यूज18 हिंदी, तस्वीरः प्रतीकात्मक)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi