S M L

भारतीय सेना ने लिया बदला, पाक सीमा में घुसकर मारे 3 सैनिक

पाकिस्तान की ओर से बार-बार किए जा रहे संघर्षविराम के उल्लंघन के जवाब में भारत ने एलओसी पार करके तीन पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया है

Updated On: Dec 26, 2017 10:21 AM IST

FP Staff

0
भारतीय सेना ने लिया बदला, पाक सीमा में घुसकर मारे 3 सैनिक

भारत ने एक बार फिर से पाकिस्तान की नापाक हरकत का बदला लिया है. सिर्फ 48 घंटे में भारतीय सेना ने अपने चार जवानों की शहादत का बदला ले लिया है. भारतीय सेना ने एक बार फिर से एलओसी पार करके पाकिस्तानी सेना के तीन जवानों को मार गिराया.

सर्जिकल स्ट्राइक की तरह किए इस हमले में भारतीय सेना ने पाक सेना को संभलने का मौका नहीं दिया. सोमवार रात को भारत ने पुंछ के पास रावलकोट सेक्टर में जवाबी फायरिंग की और इसमें तीन पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया. करीब 15 महीने पहले भी भारत ने पाकिस्तान में घुसकर पाकिस्तानी सैनिकों को ढेर कर दिया था. हालांकि वो ज्यादा बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक थी. लेकिन सोमवार को उसी तरह का ऑपरेशन सेना ने फिर अंजाम दिया.

खुफिया सूत्रों के हवाले से खबर है कि भारतीय सेना के जवान बीती रात नियंत्रण रेखा पार कर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में स्थित रावलकोट सेक्टर स्थित रखचिकरी में घुसे और वहां तीन पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया. भारतीय सेना के इस हमले में एक पाकिस्तानी सैनिक घायल भी हुआ है.

भारतीय सेना की इस कार्रवाई को पाकिस्तान की तरफ से बार-बार किए जा रहे संघर्षविराम उल्लंघन के जवाब के रूप में देखा जा रहा है. वहीं इस हमले में भारतीय पक्ष को किसी तरह की हानि की खबर नहीं है.

बीते शनिवार ही पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए भारी गोलीबारी की थी. इस हमले में सेना के एक मेजर और तीन जवान शहीद हो गए थे. इसके एक दिन बाद रविवार को भी नियंत्रण रेखा पर संघर्षपूर्ण स्थिति थी. हालांकि यहां भारतीय सेना ने हमले की ताक में बैठे पाकिस्तानी स्नाइपर को मार गिराया था.

इस बीच जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ की भी खबर है. सुरक्षाबलों की कार्रवाई में एक आतंकी मारा गया. इलाके में गोलीबारी अभी जारी है और सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर रखा है.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सेना, अर्धसैनिक बलों और पुलिस के ऑपरेशन से आतंकियों के पैर काफी हद तक उखड़ चुके हैं. कश्मीर में आतंक फैलाने में नाकामी के चलते पाकिस्तानी फौज और सीमापार बैठे आतंकियों के आका भी बौखलाए हुए हैं. यही वजह है कि पाकिस्तान इस साल नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर कुल 881 बार संषर्घ विराम का उल्लंघन कर चुका है, जो पिछले सात साल में किए गए संघर्षविराम उल्लंघनों का सर्वाधिक आंकड़ा है. इसमें 34 जवानों की मौत हो चुकी है.

अधिकारियों के अनुसार, पाकिस्तान ने इस साल के 10 दिसंबर तक नियंत्रण सीमा रेखा पर कुल 771 बार, जबकि इस साल के नवंबर के अंत तक अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखा पर 110 बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है. इस तरह की घटनाओं में 14 सैन्यकर्मी, 12 असैनिक और चार बीएसएफ शहीद हो चुके हैं.

वहीं, भाषा के अनुसार, जेईएम का वांछित आतंकवादी नूर मोहम्मद दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले के सेम्पोरा में हुई मुठभेड़ में मारा गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi