विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

'आर्मी सहायक सिस्टम' का स्टिंग करने वाले जवान की मौत की होगी जांच

रॉय मैथ्यू के परिवार की मांग पर शव के फिर से पोस्टमार्टम कराने का आदेश मिला है.

Bhasha Updated On: Mar 04, 2017 03:56 PM IST

0
'आर्मी सहायक सिस्टम' का स्टिंग करने वाले जवान की मौत की होगी जांच

सेना में सहायक व्यवस्था के ‘बेजा इस्तेमाल’ को लेकर एक स्टिंग वीडियो के वायरल होने के बाद बैरक में मृत मिले केरल के एक जवान के शव का फिर से पोस्टमार्टम करने का आदेश दिया गया है.

जवान के परिजनों ने उसके मौत पर आशंका जताते हुए फिर से पोस्टमार्टम की मांग की थी.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि कोल्लम जिले के इझूकोन के कुरूवेलिल के रहने वाले 33 वर्षीय जवान रॉय मैथ्यू का तिरुवनंतपुरम के  गर्वनमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में नए सिरे से पोस्टमार्टम किया गया. उसका शव शनिवार की सुबह ही विमान से यहां लाया गया.

महाराष्ट्र के नासिक की देवलाली छावनी में गुरुवार को मैथ्यू का शव एक खाली पड़ी बैरक में छत से लटकता मिला था.

मैथ्यू की पत्नी फिनी और कुछ रिश्तेदारों ने आरोप लगाया कि उसके पैर पर मारपीट के निशान थे और कुछ हिस्सों में खून भी जमा हुआ दिखा है. परिजन का कहना है कि केरल में दोबारा नए सिरे से शव का पोस्टमार्टम होने के बाद ही वह शव लेंगे.

कोल्लम के एसपी ग्रामीण एस सुरेंद्रन ने प्रेट्र को बताया कि फिनी ने कोल्लम के जिला अधिकारी और पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई थी और अपने पति की मौत पर संदेह जताया था.

शिकायत मिलने के बाद पोस्टमार्टम का आदेश दिया गया और इस दौरान मंडल राजस्व अधिकारी भी मौजूद थे.

एयरपोर्ट पर भरे गले से फिनी ने कहा, ‘मुझे इंसाफ मिलना चाहिए. मैं जानना चाहती हूं कि ये कैसे हुआ? मैं उन्हें देखना चाहती हूं.’ परिवार ने कहा कि जब शव को यहां लाया गया तो उसके प्रति सम्मान नहीं दिखाया गया. उन्होंने आरोप लगाया कि एयरपोर्ट पर लैंड होने के बाद शव को करीब आधे घंटे तक एक ट्रॉली पर रखकर छोड़ दिया गया.

सेना में अर्दली व्यवस्था के कथित ‘बेजा इस्तेमाल’ को लेकर एक समाचार पोर्टल को जानकारी देने से जुड़ा वीडियो वायरल होने के बाद मैथ्यू 25 फरवरी से लापता हो गया था.

सेना ने कहा कि वीडियो सामने आने के बाद उसने मैथ्यू से सवाल नहीं पूछे थे. इस वीडियो में दिखाया गया कि सहायक के तौर पर काम करने वाले सैनिक वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के कुत्तों को घुमा रहे थे और उनके बच्चों को स्कूल छोड़ने जा रहे थे.

मैथ्यू ने 13 साल पहले सेना में नौकरी शुरू की थी और नासिक कैंप में पिछले एक साल से रॉकेट रेजिमेंट 214 में आर्टिलरी गनर के तौर पर तैनात था.

उसने आखिरी बार 25 फरवरी को अपनी पत्नी से संपर्क किया था उसके बाद से वह लापता था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi