विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

भारतीय सेना ने दिया आतंकियों को करारा जवाब, इस साल 22 कोशिशें की नाकाम

इस वर्ष सेना ने घुसपैठ की 22 कोशिशों को नाकाम किया और 38 सशस्त्र आतंकवादियों को मार गिराया

Bhasha Updated On: Jun 08, 2017 11:45 PM IST

0
भारतीय सेना ने दिया आतंकियों को करारा जवाब, इस साल 22 कोशिशें की नाकाम

पाकिस्तान भारत में उत्पात मचाने के लिए आतंकवादी भेजता है. लेकिन भारतीय सेना डंट कर आतंकियों का सामना करती है. इस बात का प्रमाण सैन्य अधिकारी ने भी दिया है.

जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के समीप इस वर्ष सेना ने घुसपैठ की 22 कोशिशों को नाकाम किया और 38 सशस्त्र आतंकवादियों को मार गिराया. सेना के अनुसार पिछले 48 घंटों में गुरेज, माछिल, नौगाम और उरी सेक्टरों में घुसपैठ के प्रयासों को विफल किया गया है और सात सशस्त्र घुसपैठियों को मार गिराया गया.

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को बताया, ‘मौजूदा साल में नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ की 22 कोशिशों को नाकाम किया गया है और 34 सशस्त्र घुसपैठियों को मार गिराया गया.’

अभी तक कश्मीर में आतंकी घटनाएं नहीं रुकी हैं

उन्होंने कहा, ‘सुरक्षा बलों के सतत अभियानों द्वारा रमजान के पवित्र महीने में जम्मू-कश्मीर में आतंक फैलाने के पाकिस्तान और उसके एजेंटों की दुस्साहसपूर्ण कोशिशों को पराजित कर दिया गया है.’

जबकि कश्मीर में आतंकी घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. गुरुवार को भी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के नौगाम सेक्‍टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास सेना के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए. इस कार्रवाई में सेना का एक जवान भी शहीद हो गया है.

फिलहाल बुधवार शाम से नौगाम सेक्टर में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन जारी है. इससे पहले सेना ने बुधवार को माछिल सेक्टर में घुसपैठ की फिराक मे लगे चार आतंकी को मार गिराया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi