S M L

2028 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी टूरिज्म इकोनॉमी होगा भारत

वर्ल्ड ट्रैवल एंड टूरिज्म काउंसिल की 2018 की इकोनॉमी इंपैक्ट रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत अगले 10 सालों में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी टूरिज्म इकोनॉमी बन जाएगा

FP Staff Updated On: Mar 23, 2018 05:21 PM IST

0
2028 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी टूरिज्म इकोनॉमी होगा भारत

वर्ल्ड ट्रैवल एंड टूरिज्म काउंसिल (WTTC) की 2018 की इकोनॉमी इंपैक्ट रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत अगले 10 सालों में डायरेक्ट और कुल जीडीपी के टर्म में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी टूरिज्म इकोनॉमी बन जाएगा.

गुरुवार को दुनिया भर में पब्लिश हुई इस रिपोर्ट में कहा गया है कि 2028 तक भारत में टूरिज्म के क्षेत्र में तकरीबन 10 लाख नौकरियां पैदा होंगी. यानी 2018 में 42 लाख नौकरियां 2028 में 52 लाख तक हो जाएंगी.

WTTC के प्रेसिडेंट और चीफ एक्जिक्युटिव ग्लोरिया ग्वेवारा ने टाइम्स ऑफ इंडिया से ईमेल में हुई बातचीत में भारत को अभी दुनिया का सातवां सबसे ट्रैवल एंड टूरिज्म इकोनॉमी बताते हुए कहा कि भारत को अपने टूरिज्म इंफ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान देना चाहिए.

ग्वेवारा ने कहा कि 'भारत में यात्रा और पर्यटन के क्षेत्र में सुधार की जरूरत सबसे ज्यादा इंफ्रास्ट्रक्चर को है. टूरिज्म एक बढ़ता हुआ बाजार है. भारत के पड़ोसियों ने अपने यहां वर्ल्ड क्लास टूरिज्म इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार कर लिया है. डब्लूटीटीसी पहले ही भारत में रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम ले जाने के लिए तैयार है.'

ग्वेवारा ने पर्यटन क्षेत्र में भारत सरकार की ओर से उठाए गए कुछ कदमों की तारीफ करते हुए कहा कि भारत सरकार ने पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के लिए कई कदम उठाए हैं. इनमें से 163 देशों के लिए ई-वीजा शुरू करना और इन्क्रेडिबल इंडिया 2.0 कैंपेन की मार्केटिंग और पीआर स्ट्रेटजी में बड़े बदलावों को गिना जा सकता है. लेकिन ग्वेवारा ने सरकार की ओर से हॉस्पिटैलिटी सेक्टर में लगाए जीएसटी के तीन स्तरों पर कार्यान्वयन पर चिंता जताते हुए कहा कि सरकार को टूरिज्म सेक्टर को विकसित करने के लिए टैक्स में सुधार लाना ही पड़ेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi