S M L

भारत ने किया ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण

डीआरडीओ और टीम ब्रह्मोस की ओर से पहली बार भारत में बनाए गए ‘लाइफ एक्सटेंशन टेक्नोलॉजी’ को जांचने के लिए मिसाइल लॉन्च किया गया

Updated On: May 21, 2018 04:24 PM IST

FP Staff

0
भारत ने किया ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण

भारत ने ओडिशा के परीक्षण रेंज से ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सोमवार को सफल परीक्षण किया. यह परीक्षण इस मिसाइल की कुछ नई खूबियां जांचने करने के लिए किया गया. ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल भारत और रूस की साझा उपलब्धि है.

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के अधिकारियों ने बताया कि चांदीपुर के परीक्षण रेंज (आईटीआर) के लॉन्चिंग पैड 3 पर मोबाइल लॉन्चर से सुबह 10 बजकर 40 मिनट पर मिसाइल प्रक्षेपित किया गया.

आईटीआर के एक अधिकारी ने बताया कि यह परीक्षण डीआरडीओ और टीम ब्रह्मोस की ओर से पहली बार भारत में बनाए गए ‘लाइफ एक्सटेंशन टेक्नोलॉजी’ को जांचने के लिए किया गया था.

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने ब्रह्मोस मिसाइल का नई टेक्नोलॉजी के साथ सफल परीक्षण करने के लिए डीआरडीओ के वैज्ञानिकों और टीम ब्रह्मोस को बधाई दी. निर्मला के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया गया, ‘निर्मला सीतारमण बालेश्वर के आईटीआर से ब्रह्मोस मिसाइल के सफल परीक्षण के लिए टीम ब्रह्मोस और डीआरडीओ को बधाई देती हैं. इस टेक्नोलॉजी को पहली बार भारत में विकसित किया गया है.’

इस परीक्षण के बाद भारतीय सेना के भंडार में रखी मिसाइलों की जगह दूसरी मिसाइलें लाने पर आने वाली लागत में भारी बचत होगी. डीआरडीओ के वैज्ञानिकों ने कहा कि दो चरणों वाली मिसाइल को पहले ही थल सेना और नौसेना में शामिल किया जा चुका है. इसके साथ ही वायु सेना के लिए मिसाइल का भी सफलतापूर्वक परीक्षण किया जा चुका है.

भारत ने पहली बार नवंबर 2017 में बंगाल की खाड़ी में सुखोई -30 एमकेआई लड़ाकू विमान से दुनिया की सबसे तेज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को सफलतापूर्वक लॉन्च किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi