S M L

भारत को 'ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग' की अपनी स्थिति को बेहतर बनाना चाहिए: देवगौड़ा

नई दिल्ली में किसानों के प्रदर्शन का समर्थन करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के साथ ही भारत को ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग को लेकर भी अपनी स्थिति को बेहतर बनाना चाहिए

Updated On: Nov 30, 2018 05:24 PM IST

Bhasha

0
भारत को 'ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग' की अपनी स्थिति को बेहतर बनाना चाहिए: देवगौड़ा

नई दिल्ली में किसानों के प्रदर्शन का समर्थन करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने शुक्रवार को कहा कि 'कारोबार करने में सुगमता (ईज ऑफ डूइंग बिजनेस)' के साथ ही भारत को ‘खेती करने में सुगमता (ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग)’ को लेकर भी अपनी स्थिति को बेहतर बनाना चाहिए.

कर्नाटक सरकार की कृषि लोन माफी पहल का जिक्र करते हुए जनता दल सेकुलर (जेडीएस) सुप्रीमो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन बैंकों को उपयुक्त निर्देश देने की अपील की जो किसानों को नोटिस जारी कर रहे हैं और अनिश्चतता पैदा कर रहे हैं.

देवगौड़ा ने ट्वीट किया, ‘मोदी सरकार और बीजेपी ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ इंडेक्स में भारत की स्थिति बेहतर होने की शेखी बघार रही हैं. लेकिन कारोबार करने में सुगमता के साथ ही भारत को ‘खेती करने में सुगमता’ में भी खुद को बेहतर स्थिति में लाना चाहिए. यह बहुत जरूरी है.’

एक अन्य ट्वीट में कृषि को अब भी भारतीय अर्थव्यवस्था का मेरुदंड (बैकबोन) बताते हुए पूर्व प्रधानमंत्री ने लिखा, ‘गरीबी उन्मूलन, रोजगार सृजन, ग्रामीण विकास तभी संभव है जब भारत खेती करने में सुगमता में भी खुद को बेहतर स्थिति में लाता है.’

देशभर के हजारों किसानों ने लोन राहत और अपनी ऊपज के लाभकारी दाम समेत अपनी मांगों के पक्ष में दबाव बनाने के लिए शुक्रवार को नयी दिल्ली में संसद मार्ग पर भारी सुरक्षा के बीच अपना मार्च शुरु किया. वे गुरुवार से रामलीला मैदान में डेरा डाले हुए थे.

देवगौड़ा ने ट्वीट किया, ‘किसान लोन माफी योजना के साथ कर्नाटक खेती करने में सुगमता में अपने को बेहतर स्थिति में ला रहा है. नरेंद्र मोदी को भी राष्ट्रीय और वाणिज्यिक बैंकों को निर्देश देना चाहिए जो किसानों को नोटिस जारी कर रहे हैं और अनिश्चतता पैदा कर रहे हैं.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi