S M L

जल, थल और वायु सेना चीफ को पीएम ने दी पूरी आजादी, क्या होगा अब?

मंगलवार को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वां स्थित बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े आतंकी कैंप पर भारतीय वायु सेना के हमले के बाद पाकिस्तान के साथ तनाव चरम पर है

Updated On: Feb 27, 2019 10:39 PM IST

Ravishankar Singh Ravishankar Singh

0
जल, थल और वायु सेना चीफ को पीएम ने दी पूरी आजादी, क्या होगा अब?

भारत-पाकिस्तान के बीच चल रहे तनाव के बीच देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल, थल और वायु सेना के चीफ से लंबी मुलाकात की. सूत्रों ने बताया कि तीनों सेना चीफ से मुलाकात के बाद पीएम ने उन्हें फैसले लेने की पूरी आजादी दे दी है.

इससे पहले बुधवार सुबह पाकिस्तान के फाइटर प्लेन F16 को भारतीय सेना ने मार गिराया था. हालांकि इस दौरान भारतीय वायुसेना के लापता विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तानी जमीन पर पकड़े गए. भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस करके यह स्वीकार किया कि अभिनंदन पाकिस्तान के कब्जे में हैं.

पाकिस्तान की सेना ने अभिनंदन का वीडियो भी जारी किया जिसकी काफी आलोचना हो रही है. पाकिस्तान सेना के मीडिया विंग के प्रमुख मेजर जनरल आसिफ गफूर ने बुधवार को कहा कि भारतीय वायुसेना का एक पायलट उनके कब्जे में हैं. इससे पहले बुधवार सुबह पाकिस्तान ने दावा किया था कि वायुसेना के दो पायलट उनके पास हैं.

चौकसी बढ़ी

सरकार ने पाकिस्तान से लगी हजारों किलोमीटर लंबी सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है. बॉर्डर इलाके पर तैनात जवानों की छुटि्टयां रद्द कर दी गई हैं. दूसरी तरफ दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) ने एक बयान जारी किया कि सिक्योरिटी एजेंसी से मिली सलाह पर मेट्रो की सभी लाइनों पर रेड अलर्ट जारी कर दिया है.

देश की मौजूदा हालात पर देश की प्रमुख विपक्षी राजनतिक पार्टियों ने भी केंद्र सरकार को पूरा समर्थन किया है. 21 दलों की बैठक के बाद सभी नेताओं ने 14 फरवरी की पुलवामा हमले की कड़ी भर्त्सना की है. सभी दलों ने आतंक के खिलाफ लड़ाई में 26 फरवरी को हुए एयर स्ट्राइक का समर्थन किया है. सभी दलों ने पाकिस्तान द्वारा हमारे एक विमान गिराने पर पायलट की सुरक्षा को लेकर चिंता भी जाहिर किया है.

भारत ने किया था एयर स्ट्राइक

मंगलवार को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वां स्थित बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े आतंकी कैंप पर भारतीय वायु सेना के हमले के बाद पाकिस्तान के साथ तनाव चरम पर है. बुधवार को भारतीय वायुसेना के दो पायलटों के अपने कब्जे में होने के दावे के कुछ घंटों बाद ही पाकिस्तान ने यू-टर्न ले लिया है, पाकिस्तानी सेना ने कहा कि उनके कब्जे में भारतीय वायुसेना के केवल एक ही पायलट हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार बुधवार को जानकारी दी थी कि पाकिस्‍तानी विमानों से एंगेजमेंट के दौरान एक मिग-21 बाइसन लड़ाकू विमान क्रैश हो गया और इसके चलते एक पायलट लापता है. रवीश कुमार ने मीडिया को इस बारे में पूरी जानकारी दी कि पाकिस्तान की तरफ से भारतीय सैन्य क्षेत्रों को निशाना बनाने की कोशिश की गई थी, जिसे भारतीय वायु सेना ने विफल कर दिया.

मंगलवार को भारतीय वायुसेना के 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने मंगलवार तड़के नियंत्रण रेखा (LoC) पार करके पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के टेरर कैंप्स को तबाह कर दिया. जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के ठीक 12 दिन बाद वायुसेना ने यह बड़ी कार्रवाई की. वायुसेना के इस हमले को सर्जिकल स्ट्राइक-2 का नाम दिया जा रहा है. वायुसेना के विमानों ने मंगलवार तड़के नियंत्रण रेखा के पार आतंकी कैंप्स पर करीब 1000 किलोग्राम के बम बरसाए. इस हमले में जैश का सबसे बड़ा कैंप तबाह हो गया और करीब 350 आतंकियों की मौत हो गई.

क्या कहना है इंग्लैंड का?

इंग्लैंड की पीएम थेरेसा मे ने कहा कि वह भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव से चिंतित हैं और दोनों देशों से संयम बरतने की उम्मीद करते हैं. उन्होंने कहा, 'हम दोनों देशों के साथ नियमित संपर्क में हैं, साथ ही उनसे क्षेत्रीय स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए बातचीत और राजनयिक समाधान का आग्रह कर रहे हैं.'

भारत और पाकिस्तान के बीच चल रहे तनाव के बीच पाक पीएम इमरान खान ने कहा, 'विश्व भर में इतिहास के सभी युद्धों को गलत माना गया है, जिन्होंने युद्ध शुरू किया था उन्हें नहीं पता था कि यह कहां खत्म होगा. इसलिए, मैं भारत से यह पूछना चाहता हूं कि क्या हथियारों के साथ हम वाकई कुछ कर सकते हैं?'

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक वीडियो जारी कर कहा कि अगर युद्ध होता है  तो यह मेरे और नरेंद्र मोदी के कंट्रोल में नहीं है. इमरान ने कहा, 'अगर आप आतंकवाद पर किसी भी तरह की बातचीत चाहते हैं तो हम तैयार हैं. हमें बैठकर बातचीत करनी चाहिए.'

पुलवामा हमले में निष्पक्ष जांच करने की पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पेशकश का जवाब देते हुए, भारत सरकार ने बुधवार को पाकिस्तान को एक डोजियर सौंपा. भारतीय विदेश मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि इस डोजियर में 'पुलवामा आतंकी हमले में जैशे-ए मोहम्मद और पाकिस्तान में जैश आतंकी शिविरों और उसके नेतृत्व के मौजूदगी की जानकारी है.'

बयान में कहा गया है कि 'पाकिस्तान के कार्यवाहक उच्चायुक्त को यह अवगत कराया गया कि भारत को उम्मीद है कि पाकिस्तान अपने नियंत्रण वाले क्षेत्रों में पल रहे आतंकवाद के खिलाफ तत्काल और उचित कार्रवाई करेगा.'

पुलवामा आतंकी हमले के बाद पूरा देश पीएम मोदी से पाकिस्तान को मुंह-तोड़ जवाब देने की मांग कर रहा था. बीते मंगलवार हमले के 12 दिन बाद भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान में घुसकर बम-बारी कर आतंकियों के ठिकानों को नेस्त-नाबूत कर करारा जवाब दिया. भारत द्वारा पाकिस्तान पर किए गए हमले में 350 से ज्यादा आतंकियों के मरने की संभावना जताई गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi