S M L

भारत-पाक के सुरक्षा सलाहकार क्यों मिले बैंकॉक में?

एनएसए कार्यालय के सूत्र के मुताबिक इस बैठक से पहले दोनों देशों के विदेश विभाग के अधिकारियों को भी विश्वास में रखा गया था

Updated On: Dec 31, 2017 02:33 PM IST

FP Staff

0
भारत-पाक के सुरक्षा सलाहकार क्यों मिले बैंकॉक में?

इधर भारत-पाकिस्तान के सैनिक बॉर्डर और बॉर्डर के पार हर दिन लड़ रहे हैं. ऊधर दोनों देशों के सुरक्षा सलाहकार गुपचुप मीटिंग कर रहे हैं. भारत के सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और पाकिस्तान के सुरक्षा सलाहकार ले. नासिर खान जंजुआ ने गुप्त बैठक की है. ये बैठक 26 दिसंबर को बैंकॉक में हुई है.

ठीक एक दिन पहले कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी उनसे मिलने पाकिस्तान गई थी. इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक ये बैठक पहले से तय था. इसका कुलभूषण जाधव की खबर से कोई लेना देना नहीं है.

एनएसए कार्यालय के सूत्र के मुताबिक इस बैठक से पहले दोनों देशों के विदेश विभाग के अधिकारियों को भी विश्वास में रखा गया था. पाकिस्तानी सेना को भी इस बैठक की जानकारी दी गई थी.

पाक सुरक्षा सलाहकार नवाज शरीफ संग कर चुके हैं बैठक 

खबर के मुताबिक गुरूवार को ले. जंजुआ पूर्व पाक पीएम नवाज शरीफे से मिलने गए थे. दोनों के बीच पांच घंटे से अधिक बातचीत चली. जहां पाकिस्तान की सुरक्षा और बॉर्डर से संबंधित गतिविधियों पर चर्चा हुई है.

पाकिस्तानी अखबार डॉन में छपी खबर के मुताबिक पीएमएल नवाज गुट के एक नेता ने कहा कि दोनों के बीच बैठक हुई है. इसमें बॉर्डर पर तनाव कैसे खत्म किया जाए, इसपर बातचीत हुई है. क्योंकि इस समस्या का हल लड़ाई में नहीं, बल्कि बातचीत से ही संभव है.

इससे पहले 18 दिसंबर को पाक सुरक्षा सलाहकार जंजुआ ने कहा था कि दक्षिण एशिया के हालात नाजुक दौर से गुजर रहे हैं. परमाणु युद्ध की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है. केवल एक गलत फैसला एशियाई महाद्वीप को खतरे में डाल सकता है.

पहले भी मिल चुके हैं दोनों सुरक्षा सलाहकार 

खबर के मुताबिक दोनों सुरक्षा सलाहकारों के बीच यह पहली मुलाकात नहीं है. इससे पहले साल 2015 में दोनों बैंकॉक में मुलाकात कर चुके हैं. इसी बैठक के बाद पीएम मोदी अचानकर लाहौर पहुंच कर 25 दिसंबर को नवाज शरीफ को जन्मदिन की बधाई देने पहुंच गए थे.

दो घंटे से अधिक चली इस बैठक अजीत डोभाल ने सीजफायर का मुद्दा उठाया. इस साल 820 से अधिक सीजफायर पाकिस्तान की ओर से किए गए हैं. साथ ही पाक सेना की मदद से आतंकी लागातार घुसपैठ कर रहे हैं. इसमें कुल 31 भारतीय सैनिक मारे गए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi