S M L

भारत के नए मुख्य आर्थिक सलाहकार के प्रोफेसर थे रघुराम राजन, नोटबंदी को कहा था क्रांतिकारी कदम

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन देश के टॉप बिजनेस स्कूल, इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी) में पढ़ाते हैं, आईएसबी देश का एकमात्र संस्थान है, जो अपने अग्रणी शोध को लेकर दुनिया के 100 शीर्ष बिजनेस स्कूलों में शामिल है

Updated On: Dec 08, 2018 01:27 PM IST

FP Staff

0
भारत के नए मुख्य आर्थिक सलाहकार के प्रोफेसर थे रघुराम राजन, नोटबंदी को कहा था क्रांतिकारी कदम

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन को देश का नया मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया गया है. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन देश के टॉप बिजनेस स्कूल, इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी) में पढ़ाते हैं. बता दें कि आईएसबी देश का एकमात्र संस्थान है, जो अपने अग्रणी शोध को लेकर दुनिया के 100 शीर्ष बिजनेस स्कूलों में शामिल है. न्यूज 18 की खबर के अनुसार वर्तमान में वह वहां फाइनेंस के एसोसिएट प्रोफेसर और सेंटर फॉर एनालिटिकल फाइनेंस के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर हैं. आईएसबी की वेबसाइट के मुताबिक, आईआईटी, आईआईएम से पढ़ाई करने के बाद शिकागो-बूथ से पीएचडी की डिग्री लेने वाले कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन दुनियाभर में बैंकिंग, कॉरपोरेट गवर्नेंस और इकनॉमिक पॉलिसी के बेहतरीन विशेषज्ञों में से एक हैं.

सुब्रमण्यम ने IIT कानपुर से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त की है

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के स्कीम का समर्थन किया था. उन्होंने नोटबंदी को लेकर भी कई बातें कही थीं. उन्होंने लाइव मिंट के लिए एक कॉलम में नोटबंदी पर लिखा था. उन्होंने कहा था कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ना है. नोटबंदी एक क्रांतिकारी कदम है. सुब्रमण्यम एक प्रशिक्षित इंजीनियर है और आईआईटी कानपुर से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त की है. उन्होंने आईआईएम कोलकाता से एमबीए की है जहां वह अपने बैच के टॉपर रहे हैं.

बंधन बैंक और आरबीआई अकादमी के बोर्ड में थे शामिल

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन को सेबी के लिए कॉरपोरेट गवर्नेंस और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के लिए गवर्नेंस ऑफ बैंक्स पर विशेषज्ञ समितियों को दी गई सेवाओं ने भारत में कॉरपोरेट गवर्नेंस और बैंकिंग सुधार के मुख्य स्थापत्यों में शुमार किया है. वह अल्टरनेटिव इन्वेस्टमेंट पॉलिसी वर्क, प्राइमरी मार्केट्स, सेकेंडरी मार्केट्स एंड रिसर्च पर सेबी की स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके है. कॉरपोरेट पॉलिसी वर्क के तहत, उन्होंने बंधन बैंक, नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ बैंक मैनेजमेंट और आरबीआई अकादमी के बोर्ड में भी अपनी सेवाएं दी हैं.

न्यूयॉर्क में जेपी मॉर्गन चेज के साथ कंसल्टेंट के तौर पर किया काम

कृष्णमूर्ति ने यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस से प्रोफेसर लुइगी जिंगालेस और प्रोफेसर रघुराम राजन (पूर्व आरबीआई गवर्नर) के गाइडेंस में पीएचडी की डिग्री प्राप्त की है. बैंकिंग, लॉ एंड फाइनेंस, इनोवेशन एंड इकोनॉमिक ग्रोथ और कॉरपोरेट गवर्नेंस पर उनका रिसर्च द रिव्यू ऑफ फाइनेंशियल और द जर्नल ऑफ लॉ एंड इकोनॉमिक्स जैसे दुनिया के शीर्ष जर्नल में प्रकाशित हो चुके हैं. आईएसबी में टीचिंग शुरू करने से पहले वह न्यूयॉर्क में जेपी मॉर्गन चेज के साथ कंसल्टेंट के तौर पर काम कर चुके हैं. वह आईसीआईसीआई लिमिटेड में एलिट डेरिवेटिव रिसर्च ग्रुप के प्रबंधन में अपनी सेवाएं भी दे चुके हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi