S M L

सीएम योगी आदित्यनाथ के सामने मॉरिशस में हुआ तिरंगे का अपमान

सीएम योगी जिस टेबल पर बैठे थे, उसी टेबल पर भारत का राष्ट्रीय ध्वज उल्टा लगा था

Updated On: Nov 04, 2017 04:10 PM IST

FP Staff

0
सीएम योगी आदित्यनाथ के सामने मॉरिशस में हुआ तिरंगे का अपमान

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मॉरीशस दौरे से लौट आएं हैं, लेकिन उनकी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. इस तस्वीर में देखा जा सकता है कि तिरंगे का अपमान हुआ है. सीएम योगी जिस टेबल पर बैठे थे, उसी टेबल पर भारत का राष्ट्रीय ध्वज उल्टा लगा था. चौंकाने वाली बात ये है कि इस चीज पर न तो सीएम योगी का ध्यान गया, न केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का और न ही वहां उनके साथ मौजूद अन्य लोगों का.

ये फोटो ट्विटर पर सीएम योगी के ट्विटर हैंडल से अपलोड की गई थी. लेकिन फोटो के वायरल होते ही सोशल मीडिया पर लोगों ने सीएम योगी की कड़ी आलोचना करनी शुरू कर दी. जिसके चलते बाद में इस फोटो को डिलीट कर दिया गया. वहीं मॉरीशस सरकार ने भी इस मामले में खेद जताया है. मॉरिशस में अप्रवासी घाट ट्रस्ट फंड के अध्यक्ष धरम यश ने कहा कि हम इस घटना पर गहरा खेद व्यक्त करते हैं.

सीएम योगी ने अपने मॉरीशस दौरे पर कहा है कि भारतीय मूल के मॉरिशस वासियों को ओसीआई कार्ड की व्यवस्था से दोनों देशों के बीच रिश्ते और मजबूत होंगे. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि मॉरिशस के तीन दिवसीय दौरे पर गये मुख्यमंत्री ने कल पोर्ट लुई में भारतीय उच्चायुक्त द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में कहा कि ओसीआई कार्डधारी भारतीय मूल के मॉरिशस वासियों को भारत आगमन सहित अन्य सुविधाएं प्राप्त होंगी.

उन्होंने कहा कि जनवरी, 2017 में 14वें प्रवासी भारतीय दिवस के अवसर पर भारत सरकार द्वारा मॉरिशस में भारतीय मूल के नागरिकों के लिए विशेष ओसीआई कार्ड की घोषणा की गई थी. भारतीय मूल के मॉरिशस निवासी इस कार्ड को प्राप्त करने के लिए पीढ़ियों की बाध्यता के बिना आवेदन कर सकते हैं. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कई प्रवासी भारतीयों को उनका ओसीआई कार्ड सौंपा.

मुख्यमंत्री ने ओसीआई कार्ड से मिलने वाली सुविधाओं का जिक्र करते हुए कहा कि इस कार्ड को धारण करने वाले भारतीय मूल के मॉरिशस वासियों को आजीवन वीज़ा की अनुमति स्वतः प्राप्त हो जाएगी. वे भारत में बिना पुलिस सत्यापन के आजीवन ठहर सकते हैं. उन्होंने कहा कि ऐसे कार्ड धारकों को भारत में सभी सुविधाएं प्राप्त होंगी. इस व्यवस्था से मॉरिशस में रहने वाले भारतीय प्रवासियों का अपने पूर्वजों की भूमि को बिना किसी हिचक करीब से देखने एवं समझने का मौका मिलेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi