विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

चीनी सेना की गतिविधियों पर नजर रख रहा है ISRO

भारत की जासूसी कर रही थी चीनी नाव, इसरो की सैटेलाइट ने ढूंढ निकाली

FP Staff Updated On: Jul 05, 2017 06:06 PM IST

0
चीनी सेना की गतिविधियों पर नजर रख रहा है ISRO

सिक्किम में भारत और चीन की सेना के बीच जारी विवाद के बीच चीन ने भारत को हमले की धमकी दी है. भारत चुंबी घाटी के डोका ला इलाके में चीन की गतिविधियों पर ISRO के सैटेलाइट की मदद से नजर रख रहा है.

मिलिट्री ऑपरेशन रूम सैटेलाइट से मिलने वाली रियल टाइम तस्वीरों को लगातार मॉनिटर कर रहा है ताकि चीन में सैनिकों की गतिविधियों पर नजर रखी जा सके. सैटेलाइट से आ रही इन तस्वीरों को लगातार विदेश मंत्रालय को भी भेजा जा रहा है. सैटेलाइट लगातार इलाके की तस्वीरें भेज रहा है और हर गतिविधि का वीडियो भी बनाया जा रहा है.

भारत, भूटान और चीन के बॉर्डर पर भारतीय और चीनी सैनिक तैयार खड़े हैं. हाल ही में भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा था कि भारत चीन से युद्ध के लिए तैयार है.

इसके अलावा, भारती के रुक्मिनी नेवल सैटेलाइट ने हिंद महासागर क्षेत्र में चीन के सर्विलांस शिप हाइवांग शियांग को स्पॉट किया है. यह चीन का लेटेस्ट स्पाई शिप है जिसे चीन ने भारतीय गतिविधियों पर नजर रखने के लिए भेजा है.

कैसे बनी युद्ध की स्थिति?

पिछले दिनों भारतीय सेना ने भूटान के डोका ला इलाके में चीन के सड़क निर्माण को रोका था, जिसके बाद चीन ने नाथू ला पास में भारतीय सेना के बंकर ध्वस्त कर दिए. इस वजह से कैलाश मानसरोवर यात्रा रद्द करनी पड़ी.

इसके बाद से ही सिक्किम क्षेत्र में भारत और चीन की सेना के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है. भूटान का डोका ला भारत, चीन और भूटान की सीमा पर स्थित है, यहां यदि चीन की सड़क बन जाती है तो भारत से युद्ध की स्थिति में चीनी सेना का भारत की सीमा तक पहुंचना आसान होगा. इस वजह से भारत ने सड़क निर्माण को रोका था. वहीं दूसरी तरफ चीन लगातार भारत पर घुसपैठ का आरोप लगा रहा है. चीन ने भारत को युद्ध की धमकी देते हुए कहा है कि इस युद्ध के नतीजे 1962 से भी बदतर हो सकते हैं.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi