S M L

अक्टूबर में इंडिया इंक ने जमकर किए सौदे

लिसी रिफॉर्म्स से आगे भी बनी रहेगी डील की रफ्तार

Updated On: Nov 17, 2016 07:34 AM IST

Pratima Sharma Pratima Sharma
सीनियर न्यूज एडिटर, फ़र्स्टपोस्ट हिंदी

0
अक्टूबर में इंडिया इंक ने जमकर किए सौदे

अक्टूबर में कॉरपोरेट इंडिया के मर्जर में काफी तेजी रही. ग्रांट थॉर्न्टन की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस साल के पहले 10 महीनों में 29 अरब डॉलर के टोटल सौदे हुए.

टैक्स और एडवाइजरी फर्म थॉर्न्टन के मुताबिक अक्टूबर में 314.40 करोड़ डॉलर के 58 सौदे हुए हैं. इसमें 35 पर्सेंट की तेजी आई है.

अक्टूबर में ज्यादातर बड़े सौदे हुए, जिससे वैल्यू ग्रोथ ज्यादा रही. इस दौरान 10-10 करोड़ डॉलर के सात और 1 अरब डॉलर की एक डील हुई है. कुल मिलाकर टोटल डील वैल्यू का यह 80 पर्सेंट है.

ग्रांट थॉर्न्टन इंडिया के एलएलपी पार्टनर प्रशांत मेहरा ने कहा, विदेशी निवेश और घरेलू अधिग्रहण-विलय होना ग्रोथ के संकेत हैं. उन्होंने कहा, इस ग्रोथ में घरेलू सौदों की अहम हिस्सेदारी रही है. 12 डील में करीब 1.6 अरब डॉलर के सौदे हुए हैं.

जनवरी से अक्टूबर के दौरान 2879.80 करोड़ डॉलर के करीब 486 सौदे हुए. एक साल पहले इस पीरियड में 2751.60 करोड़ डॉलर की 476 सौदे हुए थे.

आने वाले दिनों में भी डील एक्टिविटी में तेजी बनी रहेगी. मेहरा ने कहा, 'मैक्रो इकॉनमी के सभी संकेत सकारात्मक नजर आ रहे हैं. आगे भी इसमें तेजी बनी रहेगी.'

कुल मिलाकर सरकार की रिफॉर्म्स की कोशिशों की वजह से ग्रोथ का रास्ता तैयार हो गया है. अगली कुछ तिमाहियों में ग्रोथ में और तेजी आएगी.

सेक्टर के हिसाब से आकलन से पता चलता है कि एमएंडए एक्टिविटी में तेजी की एक अहम वजह टेलीकॉम है. अक्टूबर में आईटी और आईटीईएस की डील वैल्यू 23 पर्सेंट रही.

अक्टूबर में अमेरिकन टावर कॉरपोरेशन ने वायोम नेटवर्क में 51 पर्सेंट हिस्सेदारी 1.2 अरब डॉलर में ली है. मुंबई के कार्निवल ग्रुप ने चंडीगढ़ में एलएंडटी के कमर्शियल रियल एस्टेट प्रोजेक्ट्स को 26.70 करोड़ डॉलर में खरीदा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi