S M L

मनी लॉन्ड्रिंग और पर्यावरण के क्षेत्र में भारत और साइप्रस ने किए दो MoU पर हस्ताक्षर

दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई. इसका नेतृत्व दोनों देशों के राष्ट्रपतियों ने किया

Updated On: Sep 03, 2018 09:43 PM IST

FP Staff

0
मनी लॉन्ड्रिंग और पर्यावरण के क्षेत्र में भारत और साइप्रस ने किए दो MoU पर हस्ताक्षर
Loading...

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद यूरोपीय देशों की यात्रा के पहले चरण में साइप्रस पहुंचे. जहां दोनों देशों के राष्ट्रपतियों की मौजूदगी में भारत और साइप्रस के बीच मनी लॉन्ड्रिंग और पर्यावरण के क्षेत्र में सहयोग करने और आगे बढ़ने को लेकर दो एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के मुताबिक दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई. इसका नेतृत्व दोनों देशों के राष्ट्रपतियों ने किया. इस वार्ता में आईटी, पर्यटन, नौवहन और नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में व्यापार सहयोग को बढ़ावा दिया जाना शामिल रहा.

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकी वित्त पोषण जैसी समस्याओं का सामना करने के लिए वित्तीय खुफिया जानकारी संबंधी समझौता काफी मदद देगा. इसके बाद साइप्रस के हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव को संबोधित भी किया.

बता दें कि राष्ट्रपति भारत के उच्च स्तरीय संपर्क को जारी रखने के लिए यूरोप के देशों की यात्रा पर है. इस यात्रा के पहले चरण में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद साइप्रस पहुंचे. रामनाथ कोविंद आठ दिवसीय विदेश यात्रा पर हैं. इनकी यह यात्रा 2 सितंबर से 9 सिंतबर तक होगी.

अपनी इस यात्रा के दौरान राष्ट्रपति पहले साइप्रस फिर बुल्‍गारिया और अंत में चेक रिपब्‍लिक का दौरा करेंगे. विदेश मंत्रालय के मुताबिक इस यात्रा में कोविंद तीनों यूरोपीय देशों के नेतृत्व से बातचीत करेंगे, ताकि भारत के साथ संबंधों को मजबूती के नए आयाम स्थापित किए जा सके. कोविंद के अपने राष्ट्रपति के रूप में कार्यकाल के दूसरे वर्ष में विदेश की उनकी यह पहली यात्रा है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi