S M L

जेंडर इक्वालिटी इंडेक्स में भारत 108वें रैंक पर कायम, एशिया में ये देश टॉप पर

विश्व आर्थिक मंच ने मंगलवार को वैश्विक स्त्री-पुरुष असमानता रिपोर्ट 2018 (WEF's Global Gender Gap Report 2018) जारी की

Updated On: Dec 18, 2018 09:10 PM IST

Bhasha

0
जेंडर इक्वालिटी इंडेक्स में भारत 108वें रैंक पर कायम, एशिया में ये देश टॉप पर

विश्व आर्थिक मंच यानी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के स्त्री-पुरुष असमानता सूचकांक यानी जेंडर इक्वालिटी इंडेक्स में भारत 108वें स्थान पर रहा है. देश पिछले साल भी इसी पायदान पर था.

हालांकि इस रिपोर्ट में साफ किया गया है कि देश में एक ही काम के लिए मेहनताने की समानता में सुधार हुआ है और पहली बार हायर एजुकेशन (Tertiary Education) में स्त्री-पुरुष असमानता की खाई पाटने में सफलता मिली है.

विश्व आर्थिक मंच ने मंगलवार को वैश्विक स्त्री-पुरुष असमानता रिपोर्ट 2018 (WEF's Global Gender Gap Report 2018) जारी की. इस लिस्ट में एशिया में सबसे ऊपर फिलीपींस रहा है,.

आर्थिक अवसर और भागीदारी सब-इंडेक्स में देश को 149 देशों में 142वां स्थान मिला है.

विश्व आर्थक मंच स्त्री-पुरुष असमानता को चार मुख्य कारकों यानी फैक्टर आर्थिक अवसर, राजनीतिक सशक्तिकरण, शैक्षणिक उपलब्धियां और स्वास्थ्य एवं उत्तरजीविता के आधार पर तय करता है.

मंच ने कहा, ‘भारत को महिलाओं की भागीदारी से लेकर वरिष्ठ और पेशेवर पदों पर अधिक महिलाओं को अवसर देने तक में सुधार की जरूरत है.’ मंच ने यह भी कहा कि भारत स्वास्थ्य और उत्तरजीविता उप-सूचकांक (Survival sub-index) में तीसरा सबसे निचला देश बना हुआ है.

हालांकि, इनके अलावा कुछ चीजें सकारात्मक भी हुई हैं. समान कार्य के लिए मेहनताने के स्तर पर भारत ने स्थिति में कुछ सुधार किया है और 72वें स्थान पर रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi