S M L

तूफान में बाल-बाल बचीं हेमा मालिनी, काफिले के ठीक आगे गिरा पेड़

बाद में, बीजेपी कार्यकर्ताओं और पुलिसकर्मियों ने मिलकर भारी पेड़ को रास्ते से हटाया

Updated On: May 14, 2018 09:46 AM IST

FP Staff

0
तूफान में बाल-बाल बचीं हेमा मालिनी, काफिले के ठीक आगे गिरा पेड़

यूपी में मथुरा से बीजेपी सांसद हेमा मालिनी रविवार को बाल-बाल बच गईं. दरअसल शनिवार को क्षेत्रीय दौरा कर जब वे लौट रही थीं, उसी वक्त आंधी के कारण एक पेड़ अचानक उनके काफिले के आगे गिर पड़ा. गनिमत ये रही कि उनके ड्राइवर ने अचानक गाड़ी रोक दी और सांसद सहित कई लोग हादसे का शिकार होते-होते बच गए.

आंधी-तूफान के कारण प्रदेश में भारी क्षति हुई है. अधिकारियों ने बताया कि पूरे यूपी में आंधी के कारण 18 लोगों की मौत हो गई जबकि 28 लोग घायल हो गए. यूपी के प्रमुख सचिव (सूचना) अवनीश अवस्थी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि कासगंज में पांच लोगों के, बुलंदशहर में तीन, गाजियाबाद और सहारनपुर में दो-दो लोगों के मरने की सूचना है. वहीं इटावा, कन्नौज, अलीगढ़, संभल और नोएडा में एक-एक व्यक्ति के मारे जाने की खबर है.

सुरक्षाकर्मियों ने रास्ता साफ किया

सांसद हेमा मालिनी के काफिले के आगे गिरे पेड़ को सुरक्षाकर्मियों और कार्यकर्ताओं ने मिलकर हटाया. सांसद फिलहाल चार दिन के दौरे पर गृहजनपद मथुरा में हैं. रविवार तीसरे दिन सांसद हेमा मालिनी मांट तहसील के मिठौली गांव में ग्रामीणों के साथ जनसंवाद कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची थी.

हेमा मालिनी मांट तहसील के मिट्ठौली गांव में जनसभा करने वाली थीं. वे बीजेपी सरकार की चौथी वर्षगांठ से पहले वहां जनता को मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास’ के नारे का संदेश देने गई थीं. हालांकि जब वे सभा को संबोधित कर ही रही थीं, तभी मौसम तेजी से बिगड़ने लगा. मौसम बदलते देख बीजेपी सांसद ने सभा छोड़कर वापस लौटने का फैसला किया. जब वे कुछ ही किलोमीटर पहुंची थीं कि उनके काफिले के आगे एक पेड़ आ गिरा. उनकी गाड़ी उससे टकराने से बच गई.

बाद में, बीजेपी कार्यकर्ताओं और पुलिसकर्मियों ने मिलकर भारी पेड़ को रास्ते से हटाया. इस बीच, उन्हें करीब आधा घंटा बीच सड़क पर बिताना पड़ा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi