S M L

2050 तक अमेरिका की अर्थव्यवस्था को पीछे छोड़ देगा भारत

रिपोर्ट के मुताबिक एशिया पैसेफिक क्षेत्र की 25 सबसे प्रभावशाली देशों की सूची बनाई गई है, इस सूची में भारत को चौथे स्थान पर रखा है

Updated On: Sep 19, 2018 05:12 PM IST

FP Staff

0
2050 तक अमेरिका की अर्थव्यवस्था को पीछे छोड़ देगा भारत

विश्व की चार सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से तीन एशिया पैसेफिक क्षेत्र में हैं. और 2025 तक विश्व की दो तिहाई आबादी इस क्षेत्र में रहने लगेगी. इसी के चलते वैश्विक शक्तियां भी आर्थिक और रणनीतिक रास्तों से पूर्व की और आ रही हैं.

हालांकि अमेरिका की शक्तियों में गिरावट के बावजूद भी उसके राजनयिक संबंधों और आर्थिक ताकत के बूते उसका इस क्षेत्र में प्रभाव ज्यादा है. इसी के चलते वह एशिया पैसेफिक क्षेत्र के अन्य देशों को पीछे छोड़ देता है. हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक एशिया पैसेफिक क्षेत्र की 25 सबसे प्रभावशाली देशों की सूची बनाई है. इस सूची में भारत को चौथे स्थान पर रखा है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक हर देश के लिए आर्थिक, सैन्य, राजनायिक और सांस्कृतिक प्रभावों सहित कुल 114 सूचकों के बूते यह लिस्ट बनाई गई है. जिसके जरिए बताया गया है कि हर देश दूसरे देश की तुलना में कितना और कैसे प्रभावशाली है.

अर्थव्यवस्था का आकार और विकास क्षमता में भारत का प्रदर्शन बेहतर

इस रिपोर्ट के मुताबिक चीन के मुकाबले जीडीपी के अंतर को कम कर पाना भारत के लिए काफी मुश्किल है. लेकिन भारत 11 साल के पहले जीडीपी ग्रोथ में अमेरिका के काफी नजदीक आ जाएगा. और साल 2050 तक उसे पीछे भी छोड़ देगा.

रिपोर्ट के मुताबिक साल 2030 में भारत की जीडीपी 19.5 ट्रिलियन डॉलर होगी, वहीं अमेरिका की 23.5 ट्रिलियन डॉलर और चीन की 38 ट्रिलियन डॉलर होगी. जबकि साल 2050 तक भारत, अमेरिका की 34.1 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी को पीछे छोड़ देगा. इस समय तक भारत की जीडीपी 44.1 ट्रिलियन डॉलर हो जाएगी. हालांकि चीन की जीडीपी 2050 तक 58.5 ट्रिलियन डॉलर हो जाएगी.

इस सूची के मुताबिक भारत में प्रति व्यक्ति आय अन्य देशों की तुलना में काफी कम रहेगी. वहीं निर्यात में भी भारत कई देशों से कहीं ज्यादा पीछे है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi