S M L

मन की बात में पीएम मोदी की खास बातें

पदक विजेता खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज उन्होंने जो मुक़ाम हासिल किया है, वे जिन लक्ष्यों तक पहुंचे हैं, उनकी इस जीवन-यात्रा में माता-पिता, अभिभावक, कोच, सहयोगी स्टाफ, स्कूल, शिक्षक, स्कूल का वातावरण सभी का योगदान है

FP Staff Updated On: Apr 29, 2018 01:30 PM IST

0
मन की बात में पीएम मोदी की खास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को रेडियो कार्यक्रम मन की बात में देश के लोगों को संबोधित किया. यह उनका 43वां कार्यक्रम था जिसे ऑल इंडिया रेडियो, दूरदर्शन और यू-ट्यूब पर लाइव स्ट्रीमिंग के माध्यम से सुना और देखा गया. आज मन की बात में क्या रहीं खास बातें, आइए जानते हैं-

राष्ट्रमंडल खेलों में हमारे खिलाड़ियों की सफलता हर भारतीय को गौरवान्वित करती है. इन खेलों में भाग लेने वाले एथलीट देश के अलग-अलग भागों से, छोटे-छोटे शहरों से आए हैं और अनेक बाधाओं, परेशानियों को पार करके यहां तक पहुंचे हैं.

भारत सरकार के तीन मंत्रालयों ने युवाओं के लिए ‘स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप’ शुरू की है जिसमें अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत किया जाएगा.

जल संरक्षण सामाजिक जिम्मेदारी होनी चाहिए, यह हर व्यक्ति की जिम्मेदारी होनी चाहिए. सदियों से हमारे पूर्वजों ने इसे जी कर दिखाया है, एक-एक बूंद पानी के महत्व को उन्होंने प्राथमिकता दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को रमजान और बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर शुभकामनाएं दीं.

इस बार राष्ट्रमंडल खेल में भारत की तरफ से जितने पहलवान थे, वे सब के सब पदक जीत के आए हैं. मनिका बत्रा ने जितने भी इवेंट में हिस्सा लिया, सभी में पदक जीता. वह पहली भारतीय महिला है, जिन्होंने टेबल टेनिस की एकल स्पर्धा में भारत को स्वर्ण पदक दिलाया है.

पदक विजेता खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज उन्होंने जो मुक़ाम हासिल किया है, वे जिन लक्ष्यों तक पहुंचे हैं, उनकी इस जीवन-यात्रा में माता-पिता, अभिभावक, कोच, सहयोगी स्टाफ, स्कूल, शिक्षक, स्कूल का वातावरण सभी का योगदान है. इसमें उनके दोस्तों का भी योगदान है, जिन्होंने हर परिस्थिति में उनका हौसला बुलन्द रखा.

जब हम 2 अक्टूबर से महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाएंगे, उसके पहले हमें कुछ करने का संतोष मिलेगा . इसके तहत जो उत्तम-से-उत्तम इंटर्न होंगे, जिन्होंने कॉलेज में उत्तम काम किया होगा, विश्वविद्यालय में किया होगा- ऐसे सभी लोगों को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार दिए जाएंगे.

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस इंटर्नशिप को सफलतापूर्वक पूरा करने वाले प्रत्येक इंटर्न को ‘स्वच्छ भारत मिशन’ की ओर से एक प्रमाणपत्र दिया जायेगा. इतना ही नहीं, जो इंटर्न इसे अच्छे से पूरा करेंगे, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग उन्हें दो क्रेडिट प्वायंट भी देगा. प्रधानमंत्री ने परीक्षा के बाद छुट्टियों की योजना बना रहे छात्रों को इस नए काम के लिए आमंत्रित किया .

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi