S M L

महिलाओं की बेरोजगारी कम करना, पुरुषों को रोजगार देने से ज्यादा फायदेमंद: IMF

आईएमएफ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि महिलाओं के वर्कफोर्स में आने से भारत की उत्पादकता बढ़ने की संभावना है

Updated On: Oct 09, 2018 05:00 PM IST

Bhasha

0
महिलाओं की बेरोजगारी कम करना, पुरुषों को रोजगार देने से ज्यादा फायदेमंद: IMF

यूं तो भारत में कुल वर्कफोर्स का महिलाओं का प्रतिशत बस 25 प्रतिशत के आस पास ही है लेकिन पिछले कुछ वक्त में महिलाओं की संख्या बढ़ी है. और ये बस महिलाओं की आत्मनिर्भरता के लिए ही नहीं देश की अर्थव्यवस्था के लिए भी काफी अच्छी बात है.

वर्कफोर्स में महिलाओं की भागीदारी बढ़ने से भारत जैसे देशों में उत्पादकता में वृद्धि को बल मिलने का अनुमान है क्योंकि महिलाओं के आने से काम में नए कौशल का समावेश होता है. ये बात खुद अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के एक रिसर्च पेपर बतौर निष्कर्ष कहा गया है. इस रिपोर्ट में एक और खास बात कही गई है कि महिलाओं की बेरोजगारी कम करना उसी मात्रा में पुरुषों को रोजगार देने से ज्यादा फायदा है.

आईएमएफ ने कहा कि पिछले दो दशक में काम की जगहों पर महिला कर्मचारियों की संख्या बढ़ी है लेकिन यह बढ़ोत्तरी असमान है और अब भी पुरुषों और महिलाओं के अनुपात की खाई गहरी बनी हुई है.

आईएमएफ के रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत जैसे देशों समेत दुनिया भर में महिलाओं की भागीदारी बढ़ने से उत्पादकता में वृद्धि को गति मिलने का अनुमान है क्योंकि महिलाओं के आने से कार्यस्थलों में नए कौशल भी आते हैं. इस रिपोर्ट में ये भी कहा गया कि महिलाओं की बेरोजगारी कम करना बराबर अनुपात में पुरुषों को रोजगार देने की अपेक्षा अधिक फायदेमंद होता है.

आईएमएफ ने ‘महिलाओं के समावेश के आर्थिक लाभ: नए तंत्र, नए प्रमाण‘ में कहा, ‘महिलाओं के साथ कार्यस्थलों में नए कौशल भी आते हैं. यह सामाजिक तौर-तरीकों और लालन-पालन के तरीकों, सामाजिक दखलअंदाजी और इसके साथ ही जोखिम उठाने के तौर-तरीके और प्रोत्साहनों के बारे में नजरिए में भी दिखता है.’

इसके अलावा आईएमएफ ने भारत की विकास दर पर भी रिपोर्ट पेश की. वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक रिपोर्ट में कहा है कि अनुमान है कि 2018 में भारत की विकास दर 7.3 फीसदी रहेगी और 2019 में 7.4 फीसदी रहेगी. जोकि 2017 की विकास दर (6.7 फीसदी) से ज्यादा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi