S M L

पर्व में घर जाना है लेकिन टिकट कन्फर्म नहीं हुई, तो जान लीजिए रेलवे की ये स्कीम

रेलवे की इस योजना के तहत आपका टिकट वेटिंग होने के बाद भी कन्फर्म हो सकता है

Updated On: Oct 26, 2018 01:05 PM IST

FP Staff

0
पर्व में घर जाना है लेकिन टिकट कन्फर्म नहीं हुई, तो जान लीजिए रेलवे की ये स्कीम
Loading...

साल के सबसे बड़े त्योहारों का मौसम शुरू हो चुका है. जैसे-जैसे दिन बीत रहे हैं अपने गांव-शहर को छोड़ दूसरे शहर में नौकरी और पढ़ाई करने वाले लोगों में घर वापस जाने की उत्सुकता बढ़ती जा रही है. साथ ही ट्रेन टिकट मिलने और उसके कन्फर्म होने की चिंता भी है. ऐसे में ये खबर आपको थोड़ी राहत का अनुभव कराएगी.

अगर आपने टिकट ले लिया है और आपकी ट्रेन टिकट वेटिंग में है, तो आपको बता दें कि इसके बावजूद आपको कन्फर्म सीट मिल सकती है. रेलवे की 'विकल्प योजना' के तहत आपका टिकट वेटिंग होने के बाद भी कन्फर्म हो सकता है. इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) ने इस योजना की शुरुआत की है. वेटिंग टिकट वाले यात्रियों को इस योजना के अंतर्गत वैकल्पिक ट्रेन में कंफर्म बर्थ मुहैया कराई जाएगी. हालांकि, रेल यात्रियों द्वारा इस विकल्प का चयन करने का यह बिल्कुल मतलब नहीं है कि उन्हें दूसरी ट्रेन में सीट मिल ही जाएगी. यह बात ट्रेन सीटों के अवेलेबल होने पर निर्भर करती है.

दूसरी ट्रेन (अल्टरनेटिव ट्रेन) में सीट कंफर्म होने पर, कैंसीलेशन चार्जेज दूसरी ट्रेन में आपकी सीट/बर्थ के स्तर के अनुसार होगा. योजना में बोर्डिंग और अंतिम स्टेशन आस-पास के क्लस्टर स्टेशनों में बदल सकता है. जिस ट्रेन में बुकिंग की गई है, उसके तय प्रस्थान समय से 72 घंटे में उपलब्ध वैकल्पिक ट्रेन में ही यात्री भेजे जाएंगे.

पायलट आधार पर शुरू हो रही है यह योजना

आपको बता दें कि यह योजना दिल्ली-लखनऊ व दिल्ली-जम्मू सेक्टर में पायलट आधार पर शुरू हो रही है. योजना इसके अलावा मेल/एक्सपेस ट्रेनों की समान श्रेणी पर भी लागू की गई है. यह बुकिंग कोटा और रियायत पर ध्यान दिए बिना सभी प्रतीक्षारत यात्रियों पर लागू होगी. विकल्प योजना चुनने वाले वे यात्री जो प्रतीक्षा सूची में बुकिंग और चार्ट बनने के बाद प्रतीक्षारत सूची में हैं, सिर्फ उन्हीं को वैकल्पिक ट्रेन में रेलवे सीट देने पर विचार करेगा. योजना में कोई एडिशनल चार्जेज नहीं लिया जाएगा. न ही किराए में अंतर को लौटाया जाएगा.

एक पीएनआर के सभी यात्रियों को वैकल्पिक ट्रेन में समान श्रेणी में सीट उपलब्ध कराई जाएगी या फिर किसी को भी नहीं. विकल्प चुनने वाले यात्री, जिन्हें वैकल्पिक ट्रेन में सीट दी गई है उन्हें उनके वास्तविक ट्रेन के चार्ट की प्रतीक्षारत सूची में नहीं दर्शाया जाएगा. कंफर्म और प्रतीक्षारत चार्ट के साथ ही एक अलग सूची लगाई जाएगी, जिस पर वैकल्पिक ट्रेन में शिफ्ट होने वाले यात्रियों की सूची होगी. जिस यात्री को वैकल्पिक ट्रेन में सुविधा दी गई है, वह वास्तविक ट्रेन की मूल टिकट के अधिकार पर यात्रा कर सकता है. वास्तविक ट्रेन के प्रतीक्षारत यात्री को जिसे वैकल्पिक ट्रेन सुविधा आंवटित कर दी गई है, उसे वास्तविक ट्रेन में चढ़ने की अनुमति नहीं होगी.

वास्तविक ट्रेन और वैकल्पिक ट्रेन में दोबारा सीटें आंवटित होने वाले यात्रियों को नहीं वापस किया जाएगा पैसा

वह यात्री जिसे वैकल्पिक ट्रेन में वैकल्पिक सुविधा दी गई है, उसे वैकल्पिक ट्रेन में सामान्य यात्री की तरह माना जाएगा और अपग्रेड करने के लिए योग्य होगा. कुछ मामलों में यात्री को वैकल्पिक सुविधा दी गई है औैर चार्ट बनने के आखिरी समय में किसी कारण से वैकल्पिक ट्रेन में आवंटन रद्द हो सकता है. इसलिए जिस यात्री को वैकल्पिक सुविधा दी गई है उसे वैकल्पिक ट्रेन का चार्ट बनने पर अंतिम स्थिति जांचने के लिए पीएनआर स्थिति की जांच करनी चाहिए.

वास्तविक ट्रेन और वैकल्पिक ट्रेन में किराए का अंतर, तत्काल शुल्क सहित दोबारा सीटें आंवटित होने वाले यात्रियों को इसकी धनवापसी नहीं होगी. एक बार विकल्प चयनित यात्री को वैकल्पिक सुविधा मिलने के बाद यात्रा में किसी बदलाव की अनुमति नहीं होगी. अगर जरूरत है तो यात्री को टिकट रद्द करनी पड़ेगी और बदली गई यात्रा के लिए नई टिकट बुक करनी होगी. योजना के तहत चयन की जाने वाली ट्रेन सूची सिर्फ एक बार अपडेट की जा सकती है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi