S M L

सुरक्षित देश में कोई असुरक्षित महसूस करता है तो ये उसकी मानसिकता है: प्रकाश जावड़ेकर

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा 'अगर कोई खुद को सुरक्षित देश में असुरक्षित महसूस करता है तो ये उसकी असुरक्षित मानसिकता का संकेत है.'

Updated On: Dec 23, 2018 09:44 PM IST

FP Staff

0
सुरक्षित देश में कोई असुरक्षित महसूस करता है तो ये उसकी मानसिकता है: प्रकाश जावड़ेकर

अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने बयान पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का बयान आ गया है. उन्होंने इस बयान का कड़ा विरोध करते हुए कहा कि यह असुरक्षित मानसिकता का संकेत है. शाह ने एक वीडियो में कहा था कि समाज में जहर फैल चुका है. मुझे मेरे बच्चों और परिवार को लेकर अब चिंता होती है.

इस मुद्दे पर बोलते हुए जावड़ेकर ने कहा 'अगर कोई खुद को सुरक्षित देश में असुरक्षित महसूस करता है तो ये उसकी असुरक्षित मानसिकता का संकेत है. हर किसी को इस देश में अपने विचारों को सामने रखने और अपनी कला को व्यक्त करने का मौका मिलता है. इसलिए, इस तरह का आरोप सही नहीं है.'

आगे बोलते हुए जावड़ेकर ने कहा 'यह आश्चर्य की बात है कि पाकिस्तान हमेशा ऐसी घटनाओं में प्रमाण पत्र बांटने शुरू कर देता है. यह चिंता की बात है. ऐसी बातें कहने वालों को इसके बारे में सोचना चाहिए.'

क्या है पूरा मामला?

बीते गुरुवार को नसीरुद्दीन शाह ने एक वीडियो जारी किया था, इस वीडियो में उन्होंने ने कहा '' समाज में जहर फैल चुका है. मुझे मेरे बच्चों और परिवार को लेकर अब चिंता होती है. कभी भीड़ ने मेरे घर बच्चों को घेर के पूछ लिया की उनका महजब क्या है वो हिंदू हो या मुस्लिम तो वो इसका जवाब नहीं दे पाएंगे. देश में किसी पुलिसवाले की मौत से ज्यादा अहम गाय की मौत है'' नसीरुद्दीन शाह ने बुलंदशहर हिंसा का जिक्र करते हुए इस बात को कहा है कि आज के भारत में एक गाय की जान पुलिस वाले से ज्यादा कीमती है. नसीरुद्दीन शाह ने बुलंदशहर हिंसा का जिक्र करते हुए इस बात को कहा है कि आज के भारत में एक गाय की जान पुलिस वाले से ज्यादा कीमती है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi