S M L

आधार पे ऐप से कैशलेस ट्रांजैक्शन के लिए मोबाइल की जरूरत नहीं

इस ऐप के जरिए ग्राहक अब अपने अंगूठे से भी पेमेंट कर सकेंगे

Updated On: Mar 08, 2017 07:34 PM IST

FP Staff

0
आधार पे ऐप से कैशलेस ट्रांजैक्शन के लिए मोबाइल की जरूरत नहीं

आईडीएफसी बैंक में देश का पहला आधार पे ऐप लॉन्च किया है. आधार पे नामक इस डिजिटल पेमेंट प्लैटफॉर्म से वे लोग भी कैशलेस ट्रांजैक्शन कर सकते हैं, जो मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करते है.

आधार पे पेमेंट प्लैटफॉर्म फिलहाल व्यापारियों के लिए लाया गया है. लेकिन यह ग्राहकों के लिए के लिए भी उतना ही फायदेमंद है.

व्यापारियों और ग्राहकों को होने वाला लाभ

आधार पे ऐप से होने वाले लेन-देन से बैंकों द्वारा लिए जाने वाले क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड फीस का खात्मा हो जाएगा. आधार पे स्मार्टफोन पेमेंट ऐप का सबसे बड़ा फायदा यह है कि अब व्यापारियों और दुकानदारों को इसके लिए एमडीआर नहीं देना होगा.

एमडीआर या मर्चेंट डिस्काउंट रेट बैंकों द्वारा लिया जाने वाला वह चार्ज होता है, जो बैंक द्वारा व्यापारियों से क्रेडिट या डेबिट कार्ड से होने वाले ट्रांजैक्शन के बदले लिया जाता है.

व्यापारी यह चार्ज ग्राहकों से वसूलते हैं. आधार पे ऐप के आने से दोनों को इस चार्ज से मुक्ति मिल जाएगी.

इस ऐप से ग्राहक अब स्मार्टफोन के बिना कैशलेस ट्रांजैक्शन कर सकेंगे. इसके लिए ग्राहक के पास मोबाइल फोन होना भी जरूरी नहीं है. लेकिन व्यापारी और दुकानदार के पास स्मार्टफोन होना जरूरी है और उसके पास यह ऐप डाउनलोड भी होना चाहिए.

व्यापारियों को गूगल प्ले स्टोर से आधार पे ऐप डाउनलोड करना होगा और फोन के साथ उन्हें एक बायोमीट्रिक स्कैनर जोड़ना होगा और उसे ऐप से लिंक करना होगा.

जब किसी ग्राहक को पेमेंट करनी होगी तो उसे सिर्फ अपना आधार नंबर ऐप पर डालना होगा और उस बैंक को चुनना होगा जिसके खाते से पेमेंट करनी है.

इसके बाद बायोमीट्रिक स्कैनर फिंगरप्रिंट को स्कैन करके वेरिफिकेशन करेगा. इस पूरे लेन-देन में ग्राहक को किसी पासवर्ड या ऐप की जरूरत नहीं होगी.

मगर उनका आधार नंबर उनके बैंक खातों से जुड़ा होना चाहिए. ऐसा होने पर ही पेमेंट की जा सकती है. यानी इस ऐप के जरिए ग्राहक अब अपने अंगूठे से भी पेमेंट कर सकेंगे.

ऐप के लिमिटेशन

यह ऐप सिर्फ एंड्रॉयड फोन पर ही डाउनलोड किया जा सकता है. डेबिट और क्रेडिट कार्ड मशीनें टेलिफोन लाइनों के जरिए भी काम कर लेती थीं.

मगर इस ऐप को काम करने के लिए इंटरनेट कनेक्शन का होना जरूरी है. इसी के जरिए यूजर के बायोमीट्रिक डेटा वेरिफाई होगा.

फिलहाल इस प्लैटफॉर्म के जरिए अधिकतम 10 हजार रुपये का ही ट्रांजैक्शन किया जा सकता है.

आईडीएफसी बैंक के आधार पे पेमेंट ऐप को यूआईडीएआई और नैशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया ने साथ मिलकर विकसित किया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi