S M L

उम्मीद है कि गुजरात, मुजफ्फरनगर दंगे में शामिल लोगों को भी सजा मिलेगी: केजरीवाल

केजरिवाल ने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि 1984 दंगे में शामिल अन्य बडे़ नेताओं को भी समय के साथ कठोर सजा मिलेगी. साथ ही 2002 गुजरात दंगों तथा 2013 के मुजफ्फरनगर दंगों में शामिल लोगों को भी सजा मिले

Updated On: Dec 18, 2018 04:26 PM IST

FP Staff

0
उम्मीद है कि गुजरात, मुजफ्फरनगर दंगे में शामिल लोगों को भी सजा मिलेगी: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 1984 के सिख विरोधी दंगा मामले में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार के खिलाफ हाईकोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए मंगलवार को कहा कि उम्मीद है कि मामले में शामिल अन्य ‘बड़े नेताओं’ के साथ ही गुजरात और मुजफ्फरनगर सांप्रदायिक हिंसाओं के साजिशकर्ताओं को भी सजा मिलेगी.

केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी शांतिप्रिय हैं और सद्भावना के साथ रहना चाहते हैं लेकिन ये दंगे राजनीतिक रूप से भड़काएं हुए हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं 1984 दंगा मामले में सज्जन कुमार को दोषी ठहराए जाने के हाईकोर्ट के फैसले का स्वागत करता हूं...इसमें काफी समय लग गया. इसमें देरी हूई लेकिन अंतत: फैसला आया.’

केजरिवाल ने पत्रकारों से कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि इसमें (1984 दंगे में) शामिल अन्य बडे़ नेताओं को भी समय के साथ कठोर सजा मिलेगी. साथ ही 2002 गुजरात दंगों तथा 2013 के मुजफ्फरनगर दंगों में शामिल लोगों को भी सजा मिले.

उन्होंने कहा, ‘लोग शांति के साथ रहना चाहते हैं, हिंदू और मुसलमान एक-दूसरे से लड़ना नहीं चाहते लेकिन पार्टियां उन्हें उकसाती हैं और बड़े राजनीतिक नेता ऐसा करते हैं.’ आप प्रमुख ने कहा कि कड़ी सजा दिए जाने पर भविष्य में ऐसी घटनाएं नहीं होंगी.

सोमवार को कोर्ट ने सज्जन कुमार को ठहराया था दोषी

सोमवार को ही कोर्ट ने सिख दंगे में कुमार को दोषी करार दिया था और उम्र कैद की सजा सुनाई थी. 34 साल बाद आए फैसेल में सज्जन कुमार को षड्यंत्र रचने, हिंसा कराने और दंगा भड़काने का कोर्ट ने दोषी पाया था. कोर्ट के फैसले के मुताबिक सज्जन कुमार को 31 दिसंबर तक सरेंडर करना है.

हाईकोर्ट का ये फैसला निचली अदालत के फैसले को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर आया है. दरअसल इस मामले में निचली अदालत ने फैसला सुनाते हुए कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को बरी कर दिया था. इसके बाद निचली अदालत के फैसले को चुनौती देने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में कई याचिकाएं दाखिल की गई.

(इनपुट भाषा से)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi