S M L

यूपी, उत्तराखंड में जहरीली शराब से 99 की मौत, 3000 से ज्यादा लोग गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या बढ़कर करीब 70 हो गई है

Updated On: Feb 11, 2019 10:25 AM IST

FP Staff

0
यूपी, उत्तराखंड में जहरीली शराब से 99 की मौत, 3000 से ज्यादा लोग गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या बढ़कर करीब 70 हो गई है. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, एक अधिकारी ने बताया है कि यूपी के सहारनपुर में 59 और कुशीनगर में 10 लोगों की मौत जहरीली शराब पीने के कारण हुई है, जब कि उत्तराखंड के हरिद्वार में 30 लोगों को इसी कारण अपनी जान गंवानी पड़ी है.

यूपी सरकार के प्रवक्ता ने अपने बयान में कहा है कि 3,049 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और राज्य भर में 79,000 लीटर शराब जब्त की गई है. प्रवक्ता के मुताबिक, 2812 एफआईआर दर्ज की गई हैं और सबसे अधिक करीब 2700 लोगों की गिरफ्तारियां आगरा जोन में ही हुई हैं. वहीं यूपी सरकार ने इस मामले की जांच एसआईटी से कराने का ऐलान किया है. सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन किया गया है ताकि राज्य के सहारनपुर और कुशीनगर जिलों में जहरीली शराब से हुई मौतों की घटना की उचित जांच हो सके.

इस बीच गृह विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि सरकार ने दोनों जिलों के संबंधित क्षेत्राधिकारियों को निलंबित कर दिया है. उन्होंने बताया कि सहारनपुर जिले के देवबंद के क्षेत्राधिकारी सिद्धार्थ और कुशीनगर जिले के तमकुही राज के क्षेत्राधिकारी रामकृष्ण तिवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है. जहरीली शराब प्रकरण को लेकर आरोप-प्रत्यारोप शुरू हो गए हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में कहा कि पूर्व में इस तरह की घटनाओं में समाजवादी पार्टी के नेताओं का हाथ रहा है. वहीं बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने प्रकरण की सीबीआई जांच की मांग की. योगी ने चेताया कि अवैध शराब के कारोबार में लिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, भले ही उनका किसी भी राजनीतिक दल से संबद्ध क्यों ना हों.

दूसरी ओर एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस घटना के लिए योगी सरकार की निंदा करते हुए कहा कि विपक्ष ऐसी गतिविधियों की जानकारी सरकार को देता रहा है, लेकिन सरकार ने कार्रवाई नहीं की क्योंकि उसके कुछ नेता इसमें शामिल थे. उन्होंने कहा कि सचाई यह है कि सरकार के समर्थन के बिना इस तरह का कारोबार हो ही नहीं सकता.

इस बीच अधिकारियों ने बताया कि उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के दो सीमावर्ती जिलों सहारनपुर और हरिद्वार में जहरीली शराब पीकर करीब 100 लोगों ने जान गंवाई. सीएम योगी ने कहा कि जहरीली शराब का रैकेट उत्तराखंड से संचालित हो रहा था, इसलिए उन्होंने वहां के मुख्यमंत्री से बात की है. उन्होंने बताया कि सहारनपुर और कुशीनगर जिलों के आबकारी अधिकारियों सहित कई कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है.

घटना की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने आबकारी एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे जहरीली शराब कारोबार में लिप्त लोगों के खिलाफ 15 दिन का संयुक्त अभियान चलाएं. उत्तर प्रदेश सरकार ने मृतकों के परिजन को दो-दो लाख रुपए तथा उपचार करा रहे लोगों को 50-50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की.

(इनपुट भाषा)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi