S M L

क्या एक पिता अपनी बेटी को प्यार से छू नहीं सकता?: हनीप्रीत इंसां

हनीप्रीत ने मीडिया चैनलों पर उसके बारे में चल रही खबरों पर कहा है कि वो लोग टीवी पर जिस हनीप्रीत को दिखा रहे हैं, वो असली हनीप्रीत नहीं है.

FP Staff Updated On: Oct 03, 2017 12:07 PM IST

0
क्या एक पिता अपनी बेटी को प्यार से छू नहीं सकता?: हनीप्रीत इंसां

गुरमीत राम रहीम सिंह की कथित रूप से गोद ली गई बेटी हनीप्रीत पिछले 36 दिनों से पुलिस की पहुंच से दूर थी. पुलिस ने हनीप्रीत के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर रखा था. अब हनीप्रीत खुद सामने आ गई है.

हनीप्रीत ने कुछ मीडिया चैनलों से बात की है. इसके बाद से ही हनीप्रीत के पंचकूला हाईकोर्ट में सरेंडर करने की खबरें आ रही हैं. हनीप्रीत ने इस बातचीत में बहुत सी बातों को खारिज किया है और कई बातों का खुलासा किया है.

हनीप्रीत ने इतने दिनों तक गायब रहने के सवाल पर जवाब दिया कि वो कहीं भागी नहीं थी, बल्कि डिप्रेशन में चली गई थी. न्यूज24 से बातचीत में हनीप्रीत ने कहा कि वो कभी नेपाल गई ही नहीं थी.

'पापा के साथ पवित्र रिश्ता'

हनीप्रीत ने ये भी कहा कि उसके पापा यानी गुरमीत राम रहीम निर्दोष हैं. हनीप्रीत ने कहा कि उसका और डेरा प्रमुख का रिश्ता बिल्कुल पवित्र है. आखिर कोई बाप-बेटी के पवित्र रिश्ते को गंदी तरीके से कैसे उछाल सकता है?

हनीप्रीत ने मीडिया चैनलों पर उसके बारे में चल रही खबरों पर कहा है कि वो लोग टीवी पर जिस हनीप्रीत को दिखा रहे हैं, वो असली हनीप्रीत नहीं है.

इंडिया टुडे से बातचीत में हनीप्रीत ने कहा कि बाबा को सजा सुनाए जाने के बाद हुए दंगों में उसका कोई हाथ नहीं है. हनीप्रीत ने कहा कि हमें कानून पर भरोसा है, इसीलिए हम उस दिन भी खुशी-खुशी कोर्ट गए थे, लेकिन फैसला हमारे खिलाफ आ गया. हम बिल्कुल हैरान रह गए थे. हमें कुछ समझ ही नहीं आ रहा था कि क्या हुआ, ऐसे में आप बताइए मैं कैसे कुछ कर सकती थी? मैं कहां से गुनहगार हूं?

'मेरा दंगों में कोई हाथ नहीं'

बाबा के साथ चॉपर में बैठने और जेल जाने पर हनीप्रीत ने जवाब दिया कि उसे कोर्ट से परमिशन मिली थी. हनीप्रीत ने कहा आप ही स्थिति सोचकर देखिए कि आखिर कैसे कोई अकेली लड़की उतने फोर्स के बीच में बिना परमिशन के जा सकती थी? मुझे कोर्ट से परमिशन मिली थी, इसलिए मैं बाबा के साथ गई.

इतने दिनों तक पुलिस के सामने सरेंडर क्यों नहीं कर दिया, इस सवाल पर हनीप्रीत ने कहा कि उसे लुकआउट नोटिस जारी होने के बाद कुछ समझ नहीं आ रहा था. उसने कहा कि मैं पापाजी के साथ देशभक्ति पर फिल्में बनाती थी. बाबा ने मेरे अंदर ये बात डाल दी थी कि जिएंगे मरेंगे देश के लिए. इसके बाद मुझ पर देशद्रोह का आरोप लगा दिया गया, तो मैं बिल्कुल डिप्रेस्ड हो गई. मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था, मुझे जो समझ आया, जैसे गाइड किया गया, मैंने वही किया. लेकिन अब मैं पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट जाऊंगी.

'कानूनी सलाह लूंगी'

डेरे में यौन शोषण और हत्या की खबरों को हनीप्रीत ने सिरे से खारिज कर दिया और कहा कि क्या पुलिस को एक भी नरकंकाल मिला? आखिर डेरे की बाकी हजारों साध्वियों ने इस पर कुछ क्यों नहीं बोला?

अपने पूर्व पति विश्वास गुप्ता की ओर से लगाए गए आरोपों पर हनीप्रीत ने कहा कि क्या ये लोग खास हैं? क्या ये लोग मायने रखते हैं? मैं इस टॉपिक पर बिल्कुल बात नहीं करना चाहती हूं.

क्या वो सरेंडर करेगी? इस पर हनीप्रीत ने कहा कि वो कानूनी सलाह लेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi