S M L

किसानों का दर्द समझता हूं, मैं भी साधारण परिवार से- राजनाथ सिंह

राजनाथ सिंह ने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुना कर देंगे

Updated On: Oct 05, 2018 12:59 PM IST

FP Staff

0
किसानों का दर्द समझता हूं, मैं भी साधारण परिवार से- राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह हिंदुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट में अपनी बात रख रहे हैं. राजनाथ सिंह ने कहा कि किसी संस्थान की साख को गिरने नहीं देंगे. संस्थाओं पर दल कब्जा नहीं कर सकते. इससे पहले राहुल आरोप लगाया था कि एक पार्टी की विचारधार को देश थोपा जा रहा है और संस्थाओं पर कब्जा करने की कोशिश हो रही है.

हाल में हुए किसानों के प्रदर्शन पर राजनाथ सिंह ने कहा कि किसानों का दर्द समझता हूं और मैं भी एक साधारण परिवार से हूं. राजनाथ सिंह ने कहा कि दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों को मैंने उनकी मांगों पर चर्चा करने के लिए अपने यहां बुलाया और 2-3 घंटे चर्चा हुई. उन्होंने कहा कि कई मांगे ऐसी थी जिस पर तत्काल कार्रवाई नहीं की जा सकती थी. लेकिन जिन मांगों का तत्काल हल था, उसे हमने माना.

एचटीएलएस में बोलते हुए गृह मंत्री ने कहा कि किसान इस देश का सबसे बड़ा निर्माता और ग्राहक है. लेकिन उनकी समस्याओं के सामाधान के लिए अबतक कुछ किया नहीं गया. राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार किसानों के आय को दोगुना करने के अपने वादे को 2022 तक पूरा करेगी. उन्होंने कहा कि जब से हमारी सरकार सत्ता में आई है तब से किसानों को यूरिया के लिए लाइन में नहीं लगता. पहले तो स्थिति यह थी कि किसान यूरिया के लिए परेशान हो जाते थे.

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि देश में किसी को भी हिंसा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी. उन्होंने कहा कि आज माओवाद देश के सामने सबसे बड़ी चुनौती है.

कश्मीर में बीजेपी-पीडीपी का प्रयोग सफल नहीं हुआ

जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी की घटनाओं और आतंकी हमलों पर बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि इसमें ज्यादातर चीजों के लिए पाकिस्तान जिम्मेदार है. उनका कहना था कि इस बात से कोई इनकार भी नहीं कर सकता और इसमें कोई विरोधाभास भी नहीं है. आज भी पाकिस्तान आतंकवाद को बढ़ावा देने का काम कर रहा है.

उन्होंने 2017 में हुई घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि 1995 में 6000 आतंकी घटनाएं घटित हुई थी लेकिन 2017 में केवल 360 के आसपास ऐसी घटनाएं हुई थी.

राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारा कश्मीर में पीडीपी के साथ जो प्रयोग रहा वह सफल नहीं रहा. उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश थी कि पीडीपी के साथ सरकार में रहकर हम राज्य के हालात को सुधारेंगे. लेकिन मैं यह जरूर स्वीकार करता हूं कि कश्मीर में पीडीपी-बीजेपी प्रयोग सफल नहीं हुआ.

मॉब लिंचिंग की घटनाओं को रोकना राज्य सरकारों का काम

गृह मंत्री राजनाथ सिंह से जब सवाल पूछा गया कि मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर आपकी सरकार चुप्पी क्यों साध लेती है? इस पर राजनाथ सिंह ने कहा कि मॉब लिंचिंग की घटनाओं को काबू में रखने का काम राज्य सरकार है. केंद्र सरकार सिर्फ इस मामले में राज्यों को एडवाइजरी ही जारी कर सकती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi