S M L

हिमाचल प्रदेश: तेज बारिश और लैंडस्लाइड से 5 लोगों की मौत, हाई अलर्ट जारी

लैंडस्लाइड से मंडी जिले में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि सोलन के परवानू में बाढ़ के चलते कौशल्या नदी में एक लड़का बह गया

Updated On: Aug 13, 2018 04:37 PM IST

FP Staff

0
हिमाचल प्रदेश: तेज बारिश और लैंडस्लाइड से 5 लोगों की मौत, हाई अलर्ट जारी

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के चलते लोगों की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. राज्य में लैंडस्लाइड और बारिश से अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 100 से ज्यादा लोग अभी भी फंसे हुए हैं. कई जगहों पर लैंडस्लाइड होने से नेशनल हाईवे को बंद कर दिया गया है.  इसी बीच कांडाघाट से चैल के बीच भारी बारिश में पुल का एक हिस्सा ढह जाने से यातायात बंद हो गया है.

लैंडस्लाइड से मंडी जिले में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि सोलन के परवानू में बाढ़ के चलते कौशल्या नदी में एक लड़का बह गया. लगातार हो रही तेज बारिश से मंडी की पार्वती घाटी में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है.

 अलर्ट जारी

हिमाचल प्रदेश में कई जगहों पर रविवार को रातभर भारी बारिश हुई, जिसकी वजह से प्रशासन को शिमला, कांगड़ा और सोलन समेत कई जिलों में स्कूलों को बंद करना पड़ा.

स्थिति को देखते हुए मौसम विभाग ने मंगलवार तक भारी बारिश की आशंका जताई है, हालांकि उन्होंने बताया कि उसके बाद बारिश में कमी आएगी.

कहां कितनी हुई बारिश

मौसम विज्ञान केंद्र के आंकड़े के मुताबिक, पोंटा साहिब में 239 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, जबकि सुजानपुर तिहरा में 238 मिलीमीटर बारिश हुई है.

सुबह 8.30 बजे तक मंडी (235 मिमी), पालमपुर (212 मिमी), शिमला (172.6 मिमी), धर्मशाला (142.8 मिमी) बारिश दर्ज की गई.

जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि किन्नौर के रुतुरांग में भूस्खलन की वजह से सांग्ला-कर्चम मार्ग को बंद कर दिया गया. शिमला में, फेज-3, कंगनाधार में भूस्खलन की वजह से एक गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई. कांगड़ा जिले के भी भूस्खलन के कारण कई सड़कों को बंद किया गया. इसके अलावा भूस्खलन की वजह से चांबा जिले के पंजपुला में सड़क को बंद कर दिया गया.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi