S M L

सीमा पर पाकिस्तानी फायरिंग में जवान शहीद, 4 नागरिकों की मौत

पाकिस्तानी सैनिकों ने लगातार तीसरे दिन भी संघर्ष विराम उल्लंघन किया. फायरिंग में अब तक 5 जवानों और 6 नागरिकों की मौत हो गई है, जबकि 50 लोग घायल हुए हैं

Bhasha Updated On: Jan 21, 2018 11:16 AM IST

0
सीमा पर पाकिस्तानी फायरिंग में जवान शहीद, 4 नागरिकों की मौत

जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा (एलओसी) से लगे चेकपोस्ट और गांवों पर पाकिस्तान की तरफ से लगातार तीसरे दिन भी गोलीबारी जारी रही. संघर्ष विराम उल्लंघन की इस घटना में सेना का एक जवान शहीद हो गया. पाक सैनिकों की गोलीबारी में चार भारतीय नागरिकों की भी मौत हो गई, जबकि 18 अन्य लोग घायल हो गए.

पाकिस्तानी फायरिंग लगातार होने से यहां रहने वालों में दहशत है. आस-पास के गांवों के 35,000 से ज्यादा लोग अपना घर-बार छोड़कर जाने को मजबूर हैं. अधिकारियों ने रेड अलर्ट जारी किया है और लोगों से सुरक्षित जगहों पर जाने को कहा गया है.

गोलीबारी को देखते हुए प्रशासन ने जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा और एलओसी से सटे इलाकों में 300 से अधिक स्कूल-कालेजों को अगले तीन दिन के लिए बंद कर दिया है.

चार जवान सहित 10 की मौत

पिछले तीन दिन से जारी पाकिस्तानी गोलीबारी में 6 नागरिकों और 5 जवानों सहित कुल 11 लोगों की मौत हो गई है. फायरिंग में कुछ जवानों सहित लगभग 60 लोग घायल हो गए हैं. गांवों और सीमाई चौकियों पर मोर्टार से हुई गोलाबारी में शुक्रवार को दो लोगों और दो जवानों की मौत हो गई जबकि तीन जवानों सहित 35 अन्य घायल हो गए थे.

सांबा और जम्मू जिलों में बुधवार को भी बीएसएफ का एक जवान और एक लड़की मारी गई थी और आठ अन्य घायल हुए थे. एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘पाकिस्तान ने दोपहर बिना किसी उकसावे के जम्मू में कानाचक सेक्टर के गाजनसू इलाके में गोलाबारी की और गाजनसू बस शेल्टर में गोले गिरे जिसमें दो लोग घायल हो गए.

jawan

घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया और उनमें से एक की बाद में मौत हो गई. पुलिस अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान रेंजर्स ने आरएसपुरा में सीमाई बस्तियों में गोलाबारी की. इसमें दो लोगों की मौत हो गई और पांच अन्य घायल हो गए.

अंधाधुंध फायरिंग जारी

एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी आर्मी ने बगैर उकसावे के सुबह 8 बज कर 20 मिनट पर पुंछ के कृष्णघाटी में अंधाधुंध गोलीबारी की. भारतीय सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया. दोनों ओर से हुई गोलीबारी में सिपाही मंदीप सिंह घायल हो गए और बाद में उनकी मौत हो गई. बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान रेंजर्स ने चिनाब नदी (अखनूर) से आरएसपुरा तक अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास गांवों को निशाना बना कर पूरी रात गोलाबारी की.

गोलीबारी में परगवाल सेक्टर में बीएसएफ के एक जवान की मौत हो गई जबकि कानाचक में दो लोग घायल हो गए. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान रेंजर्स की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अरनिया, रामगढ़, सांबा और हीरानगर सेक्टरों में सुबह पांच बजे तक फायरिंग और गोलाबारी जारी रही.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi