विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

नेगलेक्ट किए जाने पर सिर्फ आपके बच्चे को ही नहीं, डॉगी को भी बुखार आ सकता है!

मेरे घर में पॉमेरियन नस्ल का एक कुत्ता था जो जब भी घर में लोग आ जाते थे तो लंगड़ाने लगता था

Maneka Gandhi Updated On: Mar 25, 2017 04:19 PM IST

0
नेगलेक्ट किए जाने पर सिर्फ आपके बच्चे को ही नहीं, डॉगी को भी बुखार आ सकता है!

यूनाइटेड नीग्रो कॉलेड फंड का सूत्र वाक्य है, 'दिमाग को बर्बाद करना बहुत खराब बात है'. मेरा कहना है कि दिल को बर्बाद करना और भी खराब है. दिल को सेहतमंद रखने के लिए इसकी वर्जिश जरूरी है.

आपको अपने दिल को स्वस्थ रखने के लिए हमदर्दी और दूसरों से लगाव की भावनाओं का इस्तेमाल करना चाहिए. दूसरों की फिक्र करके आप अपने दिल की अच्छी वर्जिश कर सकते हैं.

दिल के लिए सबसे अच्छी वर्जिश तो तब होती है जब आप जानवरों के साथ हमदर्दी जताते हैं. उनके लिए फिक्रमंद होते हैं. क्योंकि अक्सर इंसान, जानवरों को अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करते हैं. उन्हें खाकर अपना पेट भरते हैं.

बहुत से लोग होते हैं जो ये नहीं मानते कि हर जानवर एक-दूसरे से अलग होता है. लोग ये यकीन नहीं करते हैं कि जानवरों को भी दर्द होता है.

कई बार वो डर जाते हैं. उन्हें भी अपने किए पर अफसोस होता है. कई बार उन्हें गुस्सा भी आता है और प्यार भी. जानवर भी हमारी तरह कई चीजों से खीझ जाते हैं और बोर भी हो जाते हैं.

जानवरों के मूड स्विंग होते हैं. वो बातें करते हैं...रोते हैं. उन्हें बहुत सी बातें याद रह जाती हैं. जानवरों को अपने साथ किसी का किया बर्ताव याद रहता है.

जानवरों की भावनाएं समझने की शुरुआत हम कुत्तों से करते हैं, जो हमारे सबसे ज्यादा करीब रहते हैं. कुत्ते की खास बॉडी लैंग्वेज होती है. इसे सीखकर- समझकर हम खुद को नई दुनिया में ले जा सकते हैं.

Labrador DOG

कुत्तों को भी घर पर रहते हुए साथ और ख्याल की जरुरत होती है

जानवरों की जबान समझना कोई बहुत मुश्किल काम नहीं होता

ऐसी दुनिया जहां हमें जानवरों की जुबान समझ में आती है. एक बार मैं एक स्कूल के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए मसूरी गई थी. वहां मैं जिसके यहां ठहरी थी उसने डोवरमैन नस्ल का एक कुत्ता पाला हुआ था.

जैसे ही मैं उसके घर में दाखिल हुई मैंने देखा कि उनका कुत्ता बंधा हुआ है. मैंने उन्हें कहा कि कुत्ता उन्हें बताना चाहता है कि उसके पांव चोटिल है.

कुत्ते के मालिक मेरी बात पर हंस पड़े. उन्होंने कहा कि इतनी दूरी से जानवर तो दिख नहीं रहा मैंने उसकी चोट कैसे देख ली. लेकिन जब हम घर पहुंचे तो उन साहब की पत्नी ने बताया कि कुत्ते के पांव में कांच घुस गया था और सुबह से वो किसी को अपना पैर छूने तक नहीं दे रहा था.

जानवरों की जुबान

कुत्ते के मालिक ने किस्सा कई बार सुनाया. मेरे लिए ये कोई अजूबा नहीं था. जिस तरह हम मराठी या तेलुगू या कोई और जुबान सीखते हैं उसी तरह हम जानवरों की जुबान भी समझ सकते हैं.

कुत्तों के इमोशन समझने के कुछ टिप्स मैं आपको देती हूं. अगर आप ये समझने लगे तो आपको दुनिया एक नए ही रंग में दिखेगी. जब कुत्ते खा-पीकर संतुष्ट होते हैं तो वो हौले से गुर्राते हैं.

हम अक्सर कुत्तों के कान के पीछे सहलाकर उन्हें राहत देने की कोशिश करते हैं. मगर उन्हें सबसे ज्यादा तसल्ली तब होती है जब आप उनके गले के नीचे उस जगह सहलाते हैं जहां से उनका सीना शुरू होता है.

jindos dogs 2

साथ रहते हुए अक्सर हम उनके हाव-भाव समझने लगते हैं

जब आप उनकी गर्दन के नीचे सहलाते हैं तो आपको उनकी बड़ी धीमी सी आवाज सुनाई देगी. वो न गुर्राहट होती है और न ही दर्द से कराहने वाली आवाज. वो तसल्ली वाली आवाज होती है. मतलब वो अपनी खुशी जाहिर करते हैं.

आपको मेरी सलाह है कि आप कभी भी कुत्ते की आंख में आंख डालकर मत देखें. ये उसे खुली चुनौती देने जैसा होता है. अब अगर वो कुत्ता आपका पालतू है तो वो आंखे फेर लेगा.

लेकिन वो किसी और का कुत्ता है और आप उसे थपकी देते हुए उसकी आंखों में झांकते हैं तो वो भड़क उठेगा और वो आपको काट भी सकता है.

अक्सर लोग ये समझते हैं कि दुम हिलाना कुत्ते के खुशी जाहिर करने का तरीका है. लेकिन ये बात हमेशा सही नहीं होती. दुम हिलाने के अलग-अलग तरीके, अलग-अलग बातें बयां करते हैं.

आमतौर पर कुत्ते का दुम हिलाना उसके नर्वस होने की निशानी होता है. जैसे आप किसी सोते हुए कुत्ते को अचानक आवाज दें तो वो चौंककर अपनी दुम पटकता है. मतलब वो सहम गया है.

अब अगर कुत्ते को ये लगता है कि आप उसे फटकार रहे हैं तो वो काफी देर तक दुम हिलाता रहता है. कभी आपने किसी आवारा कुत्ते को पुकारा है वो सहमकर अक्सर अपनी दुम देर तक हिलाता रहता है.

ये भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं कि फैशन कितने जानवरों की जान लेता है

Labrador Dog

कुत्ते भी बच्चों की तरह जिद करते हैं और नाराज होते हैं

यानी वो उसके नर्वस होने की निशानी है. वो सोचता है कि अगर वो करीब आया तो आप क्या करेंगे? अगर कोई कुत्ता ऊंची दुम उठाकर देर तक हिलाता रहता है साथ में छींकने भी लगता है तो इसका मतलब है कि वो भिड़ने के लिए तैयार है.

समर्पित कुत्ता

जब आप कुत्ते पर जोर से चीखते हैं और वो अपने कान नीचे करके फिर ऊपर उठाता है और आपके करीब आकर इशारा करता है जैसे पंजा आगे बढ़ाता है तो इसका मतलब है कि वो खुद को आपके आगे समर्पित कर रहा है.

कुत्ते ने आपका संकेत समझ लिया है. अब उसे और डांटने की जरूरत नहीं. कई बार जब आप कुत्ते को कुछ करने को कहते हैं जैसे कि बैठ जाओ या खड़े हो जाओ या फिर यहां से दूर जाओ तो वो खुद को खुजलाने लगता है.

जैसे आपके घर में मेहमान आए हों और आप चाहते हैं कि कुत्ता वहां न आए फिर भी वो आ जाता है तो आप उसे भगाते हैं. उस वक्त वो खुजली करने लगे तो ये न सोचिए कि उसे जुएं पड़ गई हैं.

इसका मतलब ये है कि कुत्ता आपकी बात मानने को तैयार नहीं. लेकिन वो खुलकर आपकी हुकुमउदूली की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है. ऐसी हालत में उस पर दबाव न बनाएं. असल में वो खाली सोच रहा होता है कि क्या करे. आपकी बात माने कि न माने.

कई बार जब आप बैठे या लेटे होते हैं तो कुत्ता आपके करीब आते-आते खुजलाने लगता है. इसका मतलब ये है कि वो आपके पास आना चाहता है मगर उसे आपके मूड का अंदाजा नहीं.

अब अगर आप उसे पुचकार कर पास बुलाएंगे या फिर उसके पास जाकर उसे सहलाएंगे तो वो फौरन खुजली करना बंद कर देगा.

जब कोई कुत्ता खेलना चाहता है तो वो अपने पैर आगे करके अंगड़ाई लेता है. जब कुत्ता आपसे प्यार जताना चाहता है तो वो जम्हाई लेगा अपनी जीभ बाहर निकालेगा और हवा में यूं ही चाटने का संकेत देगा. फिर मुंह से फटाक की आवाज निकालकर दूसरी तरफ देखेगा. कभी आप उसी की नकल करके देखिए.

jindos dogs

कई बार वे ध्यान खींचने के लिए ऊटपटांग हरकत करते हैं

कई बार आपका सलीकेवाला कुत्ता ऊल-जलूल हरकत करने लगे तो उसकी वजह जानने की कोशिश करिएगा. कई बार ऐसा होता है कि वो आपके बेडरूम में मलत्याग कर देता है. इसका मतलब वो बीमार नहीं है. वो बस आपका ध्यान अपनी तरफ खींचने की कोशिश कर रहा है. कई बार कुत्ते बेरुखी से परेशान होकर ऐसी ऊल-जलूल हरकतें करते हैं.

ये भी पढ़ें: फॉरेस्ट मैन जिसने बंजर को बनाया घना जंगल 

जब कुत्ता आपकी कोई बात नहीं समझ पाता तो वो अपना सिर एक तरफ झुकाकर आपसे अपनी बात साफ करने को कहता है. जब आप चित्त लेटे हुए किसी कुत्ते को सहलाते हैं और वो पैर ऊपर उठाकर हवा में मोड़ता है तो वो कहना चाहता है कि आपने जो किया वो उसे अच्छा लगा है.

आप फिर से उसे वैसे ही सहलाएं. मगर कई बार जब आप उसके कान के पीछे खुजलाते हैं तो वो पांव से आपको दूर धकेलता है. इसका मतलब ये है कि वो आपके सहलाने को पसंद कर रहा है मगर थोड़ा नीचे हाथ ले जाकर वही कीजिए.

कई बार जब आप कहीं जाने को तैयार होते रहते हैं तो आपका प्यारा डॉगी आकर आपके कपड़ों पर बैठ जाएगा आपके इर्द-गिर्द घूमेगा या फिर ड्रेसिंग टेबल के पास बैठ जाएगा.

आप निकलने लगते हैं तो वो आपके पैरों के पास बैठ जाएगा. वो असल में आपसे कहना चाहता है कि आप मत जाएं. ऐसे में उसे फटकारने के बजाय पुचकार कर समझाने की कोशिश करें.

कुत्ते दो ही सूरतों में जमीन पर लोटते हैं. पहले तो आपके सामने पूरी तरह से समर्पण करने पर ऐसा करते हैं. ऐसा होता है तो वो कई बार पेशाब भी कर देते हैं. कई बार कुत्ते सोते वक्त भी लोटते हैं. यानी वो पूरी तरह से तसल्लीबख्श नींद ले रहा होता है.

कुत्ते हमेशा इन्फेक्शन की वजह से बीमार नहीं होते. मेरे घर में पॉमेरियन नस्ल का एक कुत्ता था जिसे 105 डिग्री तक बुखार हो जाता था. जब भी घर में लोग आ जाते थे तो वो लंगड़ाने लगता था. जबकि आम दिनों में वो बिल्कुल ठीक से चलता था.

तमाम तरह के टेस्ट के बाद पता ये चला कि वो सिर्फ अपनी तरफ ध्यान खींचने की कोशिश भर थी. उसे इसका एक ही तरीका पता था बीमार हो जाने का. हमदर्दी हमेशा जानकारी के साथ बढ़ती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi