S M L

हरियाणा में एक के बाद एक रेप: आखिर CM ने तोड़ी चुप्पी

हरियाणा में बढ़ते रेप मामलों और लॉ एंड ऑर्डर की बिगड़ती स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ी है

FP Staff Updated On: Jan 17, 2018 04:44 PM IST

0
हरियाणा में एक के बाद एक रेप: आखिर CM ने तोड़ी चुप्पी

हरियाणा में पिछले कुछ दिनों में एक के बाद एक रेप की कई घटनाएं सामने आईं हैं. जींद और कुरुक्षेत्र के बाद हिसार में भी तीन साल की बच्ची के साथ रेप का मामला सामने आया है. बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाला भी खुद नाबालिग है. पुलिस ने इस मामले में मंगलवार शाम को 14 साल के लड़के को उसके घर से गिरफ्तार किया है.

वहीं राज्य में बढ़ते रेप मामलों और लॉ एंड ऑर्डर की बिगड़ती स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ी है. खट्टर ने कहा है कि इस तरह की घटनाएं दुखद हैं. हम सख्स कार्रवाई करेंगे और जहां चूक हो रही है, उसे सुधारेंगे. हमने पुलिस प्रशासन में बदलाव किए हैं और कुछ अधिकारियों के तबादले भी किए हैं. मैं राजनीतिक दलों से इस मुद्दे पर राजनीति न करने की अपील करता हूं.

उन्होंने आगे कहा कि हमने डायल 100 प्रोजेक्ट शुरू किया है और हम 1090 प्रोजेक्ट भी शुरू करेंगे, ताकि जिन महिलाओं को खतरा है, वो तुरंत पुलिस को संपर्क कर सकें. साथ ही हमने इस तरह के मामलों में तुरंत कार्रवाई के लिए स्पेशल कोर्ट भी गठित किए हैं.

इसके अलावा जींद और कुरुक्षेत्र में हुई रेप की घटनाओं को लेकर अंबाला रेंज के एडीजीपी आरसी मिश्रा ने कहा है कि हम मामले की जांच कर रहे हैं. हम इलाके के सभी सीसीटीवी कैमरा भी खंगाल रहें हैं. मामले से जुड़े सभी लोगों से पूछताछ की जा रही है. फोरेंसिक रिपोर्ट मिलने के बाद ही कोई बयान दे सकते हैं.

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भुपिंदर सिंह हुड्डा ने भी राज्य की कानून व्यवस्था की स्थिति को चिंताजनक बताया है. उन्होंने बढ़ते रेप मामलों को लेकर कहा है कि हमने राज्य की बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर राज्यपाल से मुलाकात की है. एक के बाद एक हुई रेप की घटनाओं ने हमारा सिर शर्मिंदगी से झुका दिया है. मुख्यमंत्री को नैतिक आधार पर इस्तीफा देना चाहिए. हमने राज्यपाल से कहा है कि अगर सीएम इस्तीफा नही देते हैं, तो राज्य राष्ट्रपति शासन लागू किया जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi