S M L

AMU का नाम बदलकर हो 'राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी'- हरियाणा के वित्त मंत्री

कैप्टन अभिमन्यु ने कहा, 'जिसने देश का बंटवारा किया उसकी तस्वीर एएमयू में लगी है. लेकिन यूनिवर्सिटी बनाने के लिए जिस राजा महेंद्र प्रताप सिंह ने जमीन दान की उनकी यहां कोई भी तस्वीर नहीं लगी है'

Updated On: May 14, 2018 12:24 PM IST

FP Staff

0
AMU का नाम बदलकर हो 'राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी'- हरियाणा के वित्त मंत्री

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में जिन्ना की तस्वीर को लेकर जारी विवाद में अब हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु भी कूद पड़े हैं. उन्होंने यूनिवर्सिटी का नाम बदलकर राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर करने की मांग की है.

रविवार को उन्होंने रेवाड़ी में एक कार्यक्रम में कहा कि जिसने देश का बंटवारा किया उसकी तस्वीर एएमयू में लगी है. लेकिन यूनिवर्सिटी बनाने के लिए जिस राजा महेंद्र प्रताप सिंह ने जमीन दान की उनकी यहां कोई भी तस्वीर नहीं लगी है. कैप्टन अभिमन्यु ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का नाम बदलकर राजा महेंद्र प्रताप यूनिवर्सिटी करने की मांग की.

उन्होंने कहा कि राजा राजा महेंद्र प्रताप सिंह के शिक्षा के क्षेत्र में किए गए योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है.

हरियाणा सरकार में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु

हरियाणा सरकार में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु

बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पाकिस्तान बनवाने वाले मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगी होने पर पिछले दिनों हिंदूवादी संगठनों और बीजेपी नेताओं ने आपत्ति जताई थी. लेकिन यूनिवर्सिटी का छात्रसंघ जिन्ना की तस्वीर हटाने को राजी नहीं है. इसे लेकर विवाद बढ़ने पर यूनिवर्सिटी में विरोध-प्रदर्शनों का दौर शुरू हो गया था और यहां हिंसा भड़क उठी थी.

बीजेपी नेताओं का कहना है कि 1938 में तस्वीर लगी जिन्ना की तस्वीर को 1947 में देश का बंटवारा होने के बाद 1947 में क्यों नहीं हटाया गया?

जिन्ना वर्ष 1938 में एएमयू आए थे. तब छात्रसंघ ने उन्हें यूनिवर्सिटी का आजीवन मेंबर बनाया था. तभी से जिन्ना की यहां तस्वीर लगी हुई है

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi