S M L

परिवार, प्यार और प्रोफेशन में कलह से भरी है जज की पत्नी और बेटे को गोली मारने वाले हत्यारे की कहानी

गुरुग्राम के आर्केडिया मार्केट में बीते शनिवार की शाम को लोगों ने बीच सड़क जो हादसा देखा शायद ही वह कभी इसे भुला पाएं

Updated On: Oct 16, 2018 10:46 AM IST

FP Staff

0
परिवार, प्यार और प्रोफेशन में कलह से भरी है जज की पत्नी और बेटे को गोली मारने वाले हत्यारे की कहानी
Loading...

गुरुग्राम के आर्केडिया मार्केट में जज की पत्नी और बेटे को गोली मारने वाले गनर की कहानी में कई तथ्य ऐसे हैं जिनसे साफ जाहिर होता है कि वह परिवार और प्रोफेशनल जिंदगी, दोनों में ही उलझा हुआ था. 32 साल के गनर महिपाल सिंह की जिंदगी में काफी परेशानियां थीं.

न्यूज18 के मुताबिक महिपाल के परिजनों, पड़ोसियों और दोस्तों का कहना है कि वह आक्रामक रवैये का शख्स नहीं था. उसने चार साल पहले अपना धर्म बदल लिया था. जब लोगों ने उसका विरोध किया तो उसने अपने कई परिजनों से रिश्ता तोड़ लिया था.

महिपाल अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था और उसके पिता नशे में उसकी मां के साथ मार-पीट करते थे. इसलिए जब महिपाल का जन्म हुआ तो उसकी मां ने पति से अलग होने का फैसला किया और मायके में जाकर रहने लगी.

महिपाल के अंकल दान सिंह ने बताया, 'जब महिपाल बच्चा था तो हमने उसे पिता के बारे में नहीं बताया था.' 2007 में महिपाल जब हरियाणा पुलिस की मेरिट लिस्ट में आया, उसी दिन उसके पिता की मौत हो गई. इसके एक साल बाद उसने विकास देवी से शादी कर ली.

नई जिंदगी की शुरुआत करने आया था गुरुग्राम, कलेश में दफ्न हो गई शादी

कुछ ही समय में दोनों के बीच अनबन हो गई और महिपाल की पत्नी उसे छोड़कर अपने मायके चली गई. लेकिन परिजनों के समझाने के बाद वह वापस लौटी और महिपाल उसे और अपनी मां को लेकर 2010 में गुरुग्राम चला आया जिससे एक नई जिंदगी की शुरुआत की जा सके.

गुरुग्राम आने के बाद भी महिपाल की शादीशुदा जिंदगी में शांति नहीं थी. गुरुग्राम में महिपाल के पड़ोसियों का कहना है कि उसके घर से अक्सर झगड़े की आवाजें सुनाई देती थीं. महिपाल जब काम से वापस घर लौटता था तो उसकी पत्नी मीनू की आवाजें पूरे मोहल्ले में सुनाई देती थीं.

महिपाल के घर में उसकी दो बेटियां, पत्नी और मां है. 2014 में महिपाल ने क्रिश्चियन धर्म अपना लिया था जिसके बाद से उसके जीवन में समस्या बढ़ गईं क्योंकि उसके परिवार के कई लोगों ने उससे बात करना बंद कर दी.

मिली जानकारी के मुताबिक 14 अक्टूबर से पहले महिपाल चार रातों से सोया नहीं था. इसलिए वह मानसिक रूप से बेहद अस्थिर था. पुलिस के मुताबिक आरोपी बार-बार कह रहा था कि उस पर भूत सवार था.

आरोपी ने गोली मारने के बाद जज की पत्नी और बेटे पर बरसाए थे लात-घूंसे

गुरुग्राम के आर्केडिया मार्केट में बीते शनिवार की शाम को लोगों ने बीच सड़क जो हादसा देखा शायद ही वह कभी इसे भुला पाएं. लोग वीकेंड पर शॉपिंग करने निकले थे लेकिन बीच सड़क पर अचानक ही गोलियां चलने लगीं जिससे वहां डर का माहौल बन गया. कई लोग चीखते-चिल्लाते इधर उधर भागते नजर आए. वहीं कुछ लोग पुलिस बुलाते दिखे.

लेकिन वहां एक ऐसा शख्स मौजूद था जिसे इन सबसे कोई फर्क नहीं पड़ रहा था. वह शख्स 38 साल का एक कॉन्स्टेबल महिपाल था जिसने एडिशनल सेशन जज की पत्नी और बेटे पर गोली चलाई थी.

आरोपी ने न सिर्फ जज कृष्ण कांत की पत्नी और बेटे पर गोली चलाई बल्कि उसने दोनों पर लात-घूंसे भी बरसाए. सीसीटीवी फुटेज में वह जज के नाबालिग बेटे को बड़ी ही बेरहमी से सड़क पर घसीटते हुए नजर आ रहा है. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, जज कृष्ण कांत की पत्नी ऋतु पर गोली चलाते ही वह जमीन पर गिर पड़ी और उसके बाद महिपाल ने उस पर जमकर लातें बरसाईं.

जब बेटे ध्रुव ने उसे रोकने की कोशिश की तो महिपाल ने उस पर भी बंदूक तान दी और तीन गोलियां चला दीं. आपको बता दें कि महिपाल की तैनाती जज और उनके परिवार की सिक्योरिटी में की गई थी.

भूत सवार होने की बात कहते हुए महिपाल ने पुलिस पर भी चलाई थी गोली

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि महिपाल ने पास ही मौजूद पुलिस के दल पर भी गोली चलाई लेकिन उसका निशाना चूक गया. पुलिस के मुताबिक आरोपी बार-बार कह रहा था कि उस पर भूत सवार था.

वहीं पुलिस कमिश्नर के के राव ने इस बारे में कहा, आरोपी मानसिक रूप से स्थिर नहीं लग रहा है. हम उसका मेडिकल कराने पर विचार कर रहे हैं. महिपाल के खिलाफ सेक्टर 50 पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस के मुताबिक महिपाल ने स्वीकार किया है कि वह काफी परेशान था और दिनभर परिवार के इशारे पर इधर-उधर भागना उसे पसंद नहीं था. उसने कहा कि उसे लगता है कि घटना के वक्त उस पर बुरे साए का असर था. वह कुछ दिनों से छुट्टी की मांग भी कर रहा था लेकिन उसे छुट्टी नहीं मिल रही थी.

इस वजह से भी वह बहुत परेशान था. वहीं जज भी उसे बहुत डांटते थे और अपने घर का बहुत सारा काम करवाते थे. घटना के कुछ देर बाद ही महिपाल को गिरफ्तार कर लिया गया था. हालांकि वह मानसिक रूप से काफी परेशान नजर आ रहा था.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi