विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

राम रहीम के बारे में वो 10 बातें, जो आपको जाननी चाहिए

गुरमीत राम रहीम पर पत्रकार की हत्या से लेकर केदारनाथ यात्रा पर विवादित बयान देकर सुर्खियां बटोर चुके हैं.

FP Staff Updated On: Aug 25, 2017 03:44 PM IST

0
राम रहीम के बारे में वो 10 बातें, जो आपको जाननी चाहिए

शुक्रवार को गुरमीत राम रहीम को रेप केस में दोषी करार दिया गया है. राम रहीम के जीवन से जुड़ी कई ऐसी बातें जिन्हें जानकर आप दंग रह जाएंगे.

15 अगस्त, 1967 को हुआ जन्म

गुरमीत राम रहीम सिंह का जन्म 15 अगस्त, 1967 को राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के गुरूसर मोदिया में जाट सिख परिवार में हुआ था. महज सात साल की उम्र में ही उन्हें तत्कालीन डेरा प्रमुख शाह सतनाम सिंह जी ने यह नाम दिया था. 23 सितंबर, 1990 को शाह सतनाम सिंह ने देश भर से अनुयायियों का सत्संग बुलाया और गुरमीत राम रहीम सिंह को अपना उत्तराधिकारी घोषित कर दिया.

दो बेटियों और एक बेटे के पिता

डेरा प्रमुख की दो बेटियां और एक बेटा है. बड़ी बेटी का चरणप्रीत और छोटी का नाम अमरप्रीत है. इनके अलावा राम रहीम ने एक बेटी को गोद ले रखा है. गुरमीत राम रहीम के बेटे की शादी भठिंडा के पूर्व विधायक हरमिंदर सिंह जस्सी की बेटी से शादी हुई है. इनके सभी बच्चों की पढ़ाई डेरे की ओर से चल रहे स्कूल में हुई है. राम रहीम के दोनों दामाद के नाम रूहेमीत और डॉ शम्मेमीत हैं.

विवादित बयान

केदारनाथ में आई बाढ़ पर गुरमीत राम रहीम ने विवादित बयान दिया था. राम रहीम ने कहा था कि 'आपदा में विधवा हुई औरतों को सहारा देने के लिए धार्मिक समूह डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी उनसे विवाह करने के लिए तैयार हैं.' उस दौरान राम रहीम ने कहा था कि करीब 1500 अनुयायी ऐसी विधवा महिलाओं से विवाह करने के लिए तैयार हैं. हालांकि इस बयान के बाद आपदा प्रभावित क्षेत्रों में बवाल मच गया था. जगह-जगह राम रहीम का विरोध किया गया.

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या का मामला

सिरसा के सांध्य दैनिक के संपादक रामचंद्र छत्रपति पर 24 अक्टूबर 2002 को कातिलाना हमले का आरोप है. छत्रपति को घर से बुलाकर पांच गोलियां मारी गई थीं. साध्वी से यौन शोषण और रणजीत की हत्या पर खबर प्रकाशित करने के कारण हमला हुआ था. 21 नवंबर 2002 को छत्रपति की दिल्ली के अपोलो अस्पताल में मौत हो गई थी. ये केस भी कोर्ट में चल रहा है.

सिखों के साथ संघर्ष

एक विज्ञापन में गुरमीत राम रहीम ने दसवें सिख गुरु गोविंद सिंह की पोशाक पहनकर विवाद खड़ा कर दिया था. विवाद बढ़ता देख राम रहीम ने सर्वोच्च सिख बॉडी अकाल तख्त से माफी मांगी थी. इस मामले में 2009 में सिरसा और 2014 में बठिंडा कोर्ट में केस दर्ज किया गया था. हालांकि बाद में कोर्ट ने इस केस को खारिज कर दिया था.

डेरे के पूर्व मैनेजर के लापता होने का मामला

डेरे के पूर्व मैनेजर फकीर चंद 1991 में गायब हो गए थे, हाई कोर्ट में याचिका दायर कर आरोप लगाया गया कि फकीर चंद को डेरा प्रमुख ने गायब कराया. यह मामला भी सीबीआई के पास जांच के लिए आया था.

धार्मिक भावना आहत करने के आरोप

पंजाब पुलिस ने डेरा प्रमुख के खिलाफ धार्मिक भावना आहत करने के आरोप में बठिंडा में मामला दर्ज किया था. खालसा दीवान और श्रीगुरु सभा बठिंडा के अध्यक्ष राजिंदर सिंह सिद्धू की शिकायत पर केस दर्ज हुआ था.

राम रहीम का अरबों में फैला है कारोबार

राम रहीम के पास सिरसा में करीब 700 एकड़ की खेती की जमीन है. राजस्थान के श्रीगंगानगर में 175 बिस्तरों वाला एक अस्पताल भी है. इसके अलावा राम रहीम एक गैस स्टेशन और एक मार्केट कॉम्प्लेक्स भी चलाते हैं. बाबा राम रहीम के डेरा सच्चा सौदा की शाखाएं देश भर में फैली हुई हैं. डेरा सच्चा सौदा की जमीन और जायदाद का रख-रखाव एक ट्रस्ट के जरिए किया जाता है जिसके मुखिया गुरमीत राम रहीम है.

400 साधुओं को नपुंसक बनाने का मामला

400 साधुओं को नपुंसक बनाने के मामले में भी सीबीआई कोर्ट में जांच चल रही है. डेरा प्रमुख पर आरोप है कि साधुओं को ईश्वर से मिलाने के नाम पर उन्हें नंपुसक बनाया गया.

5 करोड़ अनुयायी

डेरा सच्चा सौदा के देश-विदेश में करीब 5 करोड़ से ज्यादा अनुयायी बताए जाते हैं. अमेरिका से लेकर ऑस्ट्रेलिया तक बाबा के आश्रम हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi