S M L

जेल में बड़बड़ाता रहता है राम रहीम- रब्बा मेरा क्या कसूर!

स्वदेश ने बताया कि राम रहीम को कोई भी वीआईपी सुविधा नहीं दी गई है. उनके साथ वैसा ही व्यवहार किया जा रहा है, जैसा की बाकी कैदियों के साथ किया जाता है

FP Staff Updated On: Sep 01, 2017 03:52 PM IST

0
जेल में बड़बड़ाता रहता है राम रहीम- रब्बा मेरा क्या कसूर!

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को रेप के दो मामलों में 10-10 साल की सजा सुनाई गई है. शुक्रवार को जेल के अंदर से राम रहीम को लेकर कुछ और जानकारी भी सामने आई है. रोहतक की सुनारिया जेल से रिहा हुए एक कैदी ने राम रहीम के वहां बिताए गए पलों के बारे में कुछ दिलचस्प बातें बताई हैं.

दरअसल शुक्रवार को स्वदेश किराड नाम के एक कैदी की जमानत हुई. स्वदेश पिछले 9 महीने से जेल में बंद थे. उन्होंने बताया है कि जैसे ही राम रहीम को बीस साल कैद की सजा सुनाई गई वो घुटनों के बल बैठ गया और रोकर कहने लगा- 'मुझे फांसी पर चढ़ा दो. मैं अब और नहीं जीना चाहता.'

इसके साथ ही स्वदेश किराड ने राम रहीम की दूसरी कई हरकतों के बारे में बताया है. किराड का कहना है कि वो जब से जेल में आया है दिन रात अपनेआप में बड़बड़ाता रहता है और कहता है कि रब्बा मेरा क्या कसूर है?

स्वदेश किराड ने बताया है, 'मैं पांच दिन तक जेल में रहा मैंने देखा कि राम रहीम जेल के फर्श पर बैठ कर रोता रहता है. वो जेल में सिर्फ चाय, पानी और बिस्कुट ही खाता है. पूरे दिन खाना नहीं खाता और ना ही रात भर सोता है.'

स्वेदश ने बताया कि राम रहीम को कोई भी वीआईपी सुविधा नहीं दी गई है. उनके साथ वैसा ही व्यवहार किया जा रहा है, जैसा कि बाकी कैदियों के साथ किया जाता है.

दरअसल राम रहीम के जेल जाने के बाद हिंसा हुई थी. उसके अंधभक्तों ने राम रहीम के जेल जाने पर विरोध किया था, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई थी. वहीं स्वदेश ने बताया कि हिंसा में हुई मौतों से नाराज जेल में रह रहे बाकी कैदियों में काफी गुस्सा है. अगर राम रहीम को अलग नहीं रखा गया, तो वो राम रहीम पर कभी भी हमला कर सकते हैं.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi