S M L

गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमला: सूरत में बिहार के युवक की पीट-पीटकर हत्या

गया के रहने वाले अमरजीत शुक्रवार शाम मिल से वापस अपने घर लौट रहे थे तो हिंसक भीड़ ने हमला बोल दिया और पीट-पीटकर उनकी जान ले ली

Updated On: Oct 13, 2018 11:41 AM IST

FP Staff

0
गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमला: सूरत में बिहार के युवक की पीट-पीटकर हत्या

गुजरात में उत्तर भारतीयों के साथ मारपीट और दुर्व्यवहार की घटनाएं रुक नहीं रही हैं. राज्य के औद्योगिक शहर सूरत में बिहार के गया के रहने वाले एक युवक की लोहे के रॉड से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. अमरजीत नाम का यह युवक सूरत में बीते 15 साल से रह रहा था. वो यहां पंडेश्वरा इलाके स्थित एक मिल में काम करता था और वहां मजदूरों की सप्लाई भी करता था.

बताया जा रहा है कि शुक्रवार शाम अमरजीत मिल से अपने घर वापस लौट रहा था तभी हिंसक भीड़ ने उसपर हमला बोल दिया और पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी.

अमरजीत 15 साल पहले वहां रोजगार की तलाश में बिहार से यहां आया था. उसने काफी मेहनत करने के बाद यहां अपना एक घर बना लिया था और शादी भी कर ली थी. अमरजीत के दो बच्चे हैं.

अमरजीत बिहार में गया जिला के कोंच थाना के कौड़िया गांव का रहने वाला था. घटना की सूचना के बाद उसके पैतृक घर में मातम पसर गया है. उसके परिवारवालों का रो-रो कर बुरा हाल है.

अमरजीत के पिता राजदेव सिंह रिटायर्ड सैनिक हैं. उन्होंने बताया कि उनका बेटा काफी मेहनती और होनहार था. उसकी मदद से पूरा परिवार खुशी-खुशी अपना जीवन निर्वाह कर रहा था, पर इस घटना से पूरा परिवार सदमे में है.

उन्होंने बिहार सरकार के साथ-साथ गुजरात और भारत सरकार से इस हिंसा की आग को रोकने के लिए जरूरी कदम उठाने की मांग की है जिससे किसी अन्य परिवार को इस दर्द से न गुजरना पड़े.

गुजरात में यूपी-बिहार के लोगों के खिलाफ क्यों भड़की हिंसा?

बता दें कि गुजरात के साबरकांठा जिले के हिम्मतनगर में बीते 28 सितंबर को 14 महीने की बच्ची के साथ रेप की घटना सामने आई थी. पुलिस ने फौरन कार्रवाई करते हुए रेप के आरोपी बिहार के रहने वाले रविंद्र साहू नाम को गिरफ्तार कर लिया था. इस घटना के बाद स्थानीय लोगों में उत्तर भारतीयों के प्रति गुस्सा भड़क उठा था. उन्होंने विशेषकर बिहार और यूपी से वहां काम करने गए लोगों को अपना निशाना बनाना शुरू कर दिया.

पुलिस ने इस मामले में अब तक तकरीबन 500 लोगों को गिरफ्तार किया है लेकिन फिर भी उत्तर भारतीयों के मन में भय का माहौल है. वो आनन-फानन में अपने-अपने राज्यों को पलायन कर रहे हैं. गुजरात के कई इलाकों में काम करने वाले प्रवासी यूपी और बिहार के लोग इन दिनों ट्रेनों और बसों में भरकर अपने-अपने घरों को लौट रहे हैं.

(न्यूज़18 के लिए अरुण चौरसिया की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi