live
S M L

जीएसटी का 1 अप्रैल से 16 सितंबर के बीच लागू होना जरूरी: जेटली

संवैधानिक बाध्यता की वजह से जीएसटी को 1 अप्रैल से 16 सितंबर 2017 के बीच लागू करने की जरूरत है.

Updated On: Jan 09, 2017 09:16 PM IST

IANS

0
जीएसटी का 1 अप्रैल से 16 सितंबर के बीच लागू होना जरूरी: जेटली

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि संवैधानिक बाध्यता की वजह से वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) व्यवस्था को 1 अप्रैल से 16 सितंबर 2017 के बीच लागू करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि जीएसटी परिषद इस बाधा को सुलझाने की दिशा में काम कर रही है.

जेटली ने शनिवार को फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) की 89वीं सालाना बैठक में कहा, 'संवैधानिक बाध्यता की वजह से जीएसटी को लागू करने की समयसीमा एक अप्रैल से 16 सितंबर 2017 के बीच है. किसी को भी इससे छूट नहीं मिलेगी.'

जीएसटी को एक वर्ष की अवधि के भीतर लागू करने के लिए संविधान (101वें संशोधन) अधिनियम 2016 को 16 सितंबर को अधिसूचित किया गया था.

जेटली ने कहा, 'जहां तक 16 सितंबर 2017 से मौजूदा कराधान का सवाल है तो मौजूदा कराधान व्यवस्था के तहत न ही केंद्र और न ही राज्य टैक्स लगा सकते हैं.'

उन्होंने कहा, 'आदर्श रूप से तो जीएसटी को एक अप्रैल 2017 से लागू हो जाना चाहिए. यदि हम इससे पहले कर लेते हैं तो हमें नई प्रणाली के अनुकूल स्वयं को ढालने में मदद मिलेगी.'

जेटली ने कहा कि केंद्रीय जीएसटी, समेकित जीएसटी और राज्यों के राजस्व में घाटे के एवज में मुआवजा दिए जाने के मामले पर फिलहाल मसौदा तैयार हो रहा है, जिसे संसद द्वारा पारित करने की जरूरत है.

उन्होंने कहा, 'जीएसटी परिषद को अब बड़े फैसले लेने हैं. मुझे इन विधेयकों के पारित होने में कोई अड़चन नहीं दिख रही. मुद्दा सिर्फ क्षेत्राधिकार के आकलन का है.'

जेटली ने कहा कि दोहरे नियंत्रण या जीएसटी के आकलन पर किसका नियंत्रण रहेगा- केंद्र का या राज्य का, इसे परिषद में सुलझाने की जरूरत है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi