S M L

लोकसभा से जीएसटी बिल पास, 1 जुलाई से हो सकता है लागू

लोकसभा में जीएसटी से जुड़े चारों सहायक विधेयक पास

| March 29, 2017, 09:07 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Mar 29, 2017

  • 21:38(IST)

    लोकसभा में जीएसटी बिल पास होने पर प्रधानमंत्री मोदी ने खुशी जताते हुए कहा, 'नया साल, नया कानून और नया भारत.'  

  • 20:58(IST)

    जीएसटी संबंधित चारो बिल लोकसभा से पास 

  • 20:54(IST)

    लोकसभा से जीएसटी बिल पास 

  • 20:49(IST)

    लोकसभा में  जीएसटी बिल पर चर्चा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि जीएसटी की 4 दरें होंगी और इसकी अधिकतम सीमा 28 फीसदी की होगी. इतना ही नहीं लग्जरी सामान पर अलग से सेस भी लगेगा.

    जीएसटी मल्टीपल टैक्सेशन स्लैब रखे गए हैं. खाने-पीने की चीजें और पेट्रोलियम पदार्थ 0 फीसदी टैक्स स्लैब में आएंगी. दूसरा टैक्स स्लैब 5 फीसदी का होगा वहीं तीसरा स्लैब 12-18 फीसदी का होगा जबकि 28 फीसदी अधिकतम टैक्स स्लैब होगा. लग्जरी स्लैब में तंबाकू, महंगी गाड़ियां आएंगी. लग्जरी स्लैब के 2 हिस्से होंगे, सेस+टैक्स. लग्जरी/तंबाकू उत्पादों पर 28 फीसदी के साथ सेस भी लगेगा. यह सेस 5 सालों के लिए होगा.

  • 20:46(IST)

    लोकसभा से सीजीएसटी और आईजीएसटी बिल पास 

  • 20:39(IST)

    लोकसभा से सीजीएसटी बिल पास 

  • 20:36(IST)

    जीएसटी के तहत खाद्य पदार्थों जैसे सामानों पर कोई टैक्स नहीं लगेगा 

  • 20:35(IST)

    जीएसटी के लिए 115 वां संविधान संशोधन हो रहा है.

  • 20:34(IST)

    जीएसटी बिल के पास होने के बाद सेंट्रल एक्साइज लॉ और वैट लॉ खत्म हो जाएगा 

  • 20:23(IST)
  • 20:16(IST)

    जीएसटी पर विपक्ष ने जताई चिंता कहा बढ़ सकती है टैक्स टेररिज्म 

  • 20:14(IST)

    जीएसटी के बाद मुनाफाखोरी पर नजर रखने की जरूरत है

  • 20:12(IST)

    जीएसटी के पहले साल में रियल एस्टेट पर होगा विचार  

  • 20:10(IST)

    तंबाकू और लग्जरी पदार्थों पर जीएसटी के साथ अतिरिक्त सेस भी लगेगा  

  • 20:08(IST)

    पेट्रोलियम पदार्थ जीएसटी के तहत फिलहाल 0% स्लैब में होगी. इसके  स्लैब  को बदलने पर बाद में विचार होगा 

  • 20:06(IST)

    जीएसटी में जरूरी चीजें होंगी सस्ती 

  • 20:04(IST)

    लग्जरी स्लैब में 28 % टैक्स के साथ 5 साल के लिए सेस लगाया जाएगा 

  • 20:02(IST)

    जेटली ने कहा टैक्स में मिली छूट का फाएदा ग्राहकों को मिले 

  • 20:02(IST)

    पेट्रोलियम को बाद में जीएसटी के तहत लाया जाएगा 

  • 20:00(IST)

    जीएसटी गुड्स और सर्विस टैक्स को एक करेगा.

  • 19:59(IST)

    सभी चीजों के लिए एक तरह का रेट संभव नहीं है 

  • 19:58(IST)

    जीएसटी कौंसिल ही तय करेगी जीएसटी की रेट 

  • 19:56(IST)

    जेटली ने कहा कि जीएसटी से टैक्स का बोझ जनता पर से हटेगा

  • 19:55(IST)

    जेटली ने कहा केंद्र और राज्य मिलकर वसूलेंगे जीएसटी

  • 19:55(IST)

    जेटली लोकसभा में जीएसटी बिल से जुड़े सवालों का जबाब दे रहे हैं.

  • 17:01(IST)

    वित मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सभी लाभों को पाने के लिए आधार नंबर होना जरूरी है 

  • 16:57(IST)

    राज्यसभा से फाइनेंस बिल पास हुआ.

  • 16:50(IST)

    जयराम रमेश ने कहा कि 2012 तक आधार का इस्तेमाल वैकल्पिक था. 

  • 16:48(IST)

    पी. चिदंबरम ने जेटली से सवाल किया कि इनकम टैक्स और बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने पर. अगर आधार के द्वारा किसी ने इनकम टैक्स और बैंक अकाउंट को हैक कर लिया तो लोगों की निजता का क्या होगा? सरकार इसे कैसे रोकेगी. महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी ने भी अभी इस बारे में शिकायत दर्ज की है.

    सरकार किस तरह की तकनीक का इस्तेमाल करेगी कि आधार की हैकिंग रोकी जा सके.

  • 16:41(IST)

    जेटली ने कहा कि फाइनेंस बिल राजनीतिक फंडिंग को क्लीन करेगा  

लोकसभा से जीएसटी बिल पास, 1 जुलाई से हो सकता है लागू

लोकसभा में बुधवार को गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्स यानी जीएसटी से जुड़े चार सहायक विधेयकों पर बहस हो रही है.

लोकसभा से मंजूरी के लिए सेंट्रल जीएसटी, इंटिग्रेटेड जीएसटी, यूनियन टेरिटरी जीएसटी और कॉम्पेंसेशन जीएसटी बिलों को एक साथ पेश किया गया है. बहस के करीब 7 घंटे तक चलने की उम्मीद जताई जा रही है.

उम्मीद है कि इन विधेयकों पर चर्चा के बाद बुधवार को ही इन्हें पारित किया जा सकता है. जीएसटी 1 जुलाई से लागू होनी है. ऐसे में सरकार को इससे पहले ये बिल पास करा लेने हैं.

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने बहस के दौरान कहा कि उत्पादों और सेवाओं के बेहतर तरीके से जनता तक पहुंचाने के उद्देश्य से यह कानून लागू करना चाहिए. इससे मिलने वाले राजस्व का बंटवारा केंद्र तथा राज्यों के बीच किया जाएगा. बहस के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी सदन में मौजूद हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi