S M L

सरकारी कर्मचारियों को घर बनाने के लिए मिलेगा सस्ता लोन

सरकार की इस स्कीम का फायदा सिर्फ केंद्र सरकार के कर्मचारियों को मिलेगा

Updated On: Nov 10, 2017 11:05 AM IST

FP Staff

0
सरकारी कर्मचारियों को घर बनाने के लिए मिलेगा सस्ता लोन

सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के लिए सौगात का ऐलान कर दिया है. सरकार ने इन्हें सस्ते लोन देने का ऐलान किया है. इस स्कीम के तहत केंद्र सरकार के कर्मचारी 25 लाख रुपए या 34 महीनों की बेसिक सैलरी उधार ले सकते हैं. सरकार एक करोड़ रुपए तक का घर बनाने के लिए 25 लाख रुपए तक की एडवांस सैलरी देगी.

केंद्र सरकार के कर्मचारी अब नए आवास के निर्माण या खरीद के लिए 8.50 प्रतिशत के साधारण ब्याज पर 25 लाख रुपए एडवांस ले सकते हैं. एक आधिकारिक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई.

इससे पहले अधिकतम सीमा 7.50 लाख रुपए थी और ब्याज की दर छह प्रतिशत से 9.50 प्रतिशत के बीच थी.

आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 20 साल के लिए 25 लाख रुपए का कर्ज देने वाली अन्य कंपनियों की तुलना में ‘हाउसिंग बिल्डिंग एडवांस’ का लाभ उठा कर करीब 11 लाख रुपए बचाए जा सकते हैं.

उन्होंने इसे समझाते हुए कहा कि अगर एसबीआई जैसे बैंक से 25 लाख का लोन 20 वर्ष के लिए लिए वर्तमान के 8.35 प्रतिशत के चक्रवृद्धि ब्याज की दर से लिया जाता है तो इस पर मासिक किश्त बनती है 21,459 रुपए.

उन्होंने कहा कि 20 वर्ष के अंत में चुकाई जाने वाली राशी हो जाती है 51.50 लाख, जिसमें ब्याज की 26.50 लाख की रकम भी शामिल है. वहीं अगर यही लोन एचबीए से 20 वर्ष के लिए 8.50 प्रतिशत के साधारण ब्याज पर लिया जाए तो पहले 15 वर्षों के लिए मासिक किश्त 13,890 रुपए बनती है और इसके बाद की किश्त आती है 26,411 रुपए प्रतिमाह, तो इस प्रकार कुल अदा की गई राशि है 40.84 लाख, जिसमें ब्याज के 15.84 लाख रुपए शामिल हैं.

यदि कोई दंपति केन्द्र सरकार के कर्मचारी हैं तो वे इस योजना का फायदा अलग अलग और एक साथ भी उठा सकते हैं. इससे पहले दोनों में से कोई एक ही यह लाभ ले सकता था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi