S M L

अर्नब गोस्वामी समेत 4 को मोदी सरकार ने नेहरू मेमोरियल का चुना सदस्य, 3 मेंबरों की हुई 'छुट्टी'

केंद्र ने नेहरु मेमोरियल म्यूजियम और लाइब्ररेरी सोसाइटी से अर्थशास्त्री नितिन देसाई, प्रोफेसर उदयन मिश्रा और पूर्व राजनयिक बीपी सिंह को बाहर का रास्ता दिखा दिया है

Updated On: Nov 03, 2018 04:52 PM IST

FP Staff

0
अर्नब गोस्वामी समेत 4 को मोदी सरकार ने नेहरू मेमोरियल का चुना सदस्य, 3 मेंबरों की हुई 'छुट्टी'
Loading...

कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 मूर्ति एस्टेट में सभी 'प्रधानमंत्रियों के लिए म्यूजियम' बनाने की नींव रखी थी. अब केंद्र सरकार ने नेहरू मेमोरियल म्यूजियम और लाइब्रेरी (एनएमएमएल) सोसाइटी से 3 लोगों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है. इसमें अर्थशास्त्री नितिन देसाई, प्रोफेसर उदयन मिश्रा और पूर्व राजनयिक बीपी सिंह शामिल हैं.

यह तीनों ही लोग एनएमएमएल के प्रति केंद्र के व्यवहार और तौर तरीकों की कड़ी आलोचना करते रहते थे. देसाई और सिंह ने तो एनएमएमएल में सभी प्रधानमंत्रियों के लिए म्यूजियम बनाने में आने वाली दिक्कतों के बार खुलेआम बोला था.

इकॉनोमिक टाइम्स के मुताबिक इनको हटाने के साथ ही सरकार ने पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर, पत्रकार अर्णब गोस्वामी, बीजेपी सांसद और आईसीसीआर के अध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे और इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स के चेयरमैन राम बहादुर राय को एनएमएमएल सोसायटी में नियुक्त किया है. नए सदस्यों का कार्यकाल 26 अप्रैल, 2020 तक या फिर अगले आदेश तक रहेगा. संस्कृति मंत्रालय की ओर से 29 अक्टूबर को रिलीज जारी कर यह जानकारी दी गई.

बयान में यह भी कहा गया है कि सरकार ने सोसायटी के पूर्व सदस्य प्रताप भानु मेहता का भी इस्तीफा स्वीकार कर लिया है. मेहता ने 'राजनीतिक दबाव' के चलते इस्तीफ देने की बात कही थी.

वहीं सोसायटी में हुए बदलाव के बारे में बात करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने कहा है कि जिन लोगों को भी हटाया गया है वो सभी ईमानदार लोग थे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi