S M L

काबिल लोगों को ही मिले सरकारी नौकरी: बॉम्बे हाईकोर्ट

बीएमसी के फोर्थ ग्रेड के 15 कर्मचारियों की ओर से दाखिल याचिका पर सुनवाई कर रही थी बॉम्बे हाईकोर्ट

Bhasha Updated On: Jan 21, 2018 05:16 PM IST

0
काबिल लोगों को ही मिले सरकारी नौकरी: बॉम्बे हाईकोर्ट

बॉम्बे हाईकोर्ट ने अपने एक आदेश में कहा है कि सभी सार्वजनिक निकायों में नियुक्तियां ‘योग्यता’ के आधार पर होनी चाहिए. इस के साथ ही अदालत ने शहर के एक स्थानीय निकाय के निचली श्रेणी के कर्मचारियों को राहत देने से मना कर दिया जिन्होंने क्लर्कों के खाली पड़े पदों में इन्हें समायोजित करने की मांग की थी.

हाईकोर्ट के जस्टिस एस. सी. धर्माधिकारी और जस्टिस भारती डांगरे ने हाल ही में अपने आदेश में कहा कि चूंकि बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) एक सार्वजनिक निकाय है इसलिए इसमें पारदर्शिता और उच्च गुणवत्ता का काम बनाए रखने की जरूरत है.

कोर्ट ने कहा, ‘इसलिए समय-समय पर नई चयन प्रक्रिया के जरिए अधिक काबिल और उत्साही प्रतिभागियों को चुने जाने से इसको ज्यादा लाभ मिलेगा.’ पीठ बीएमसी के फोर्थ ग्रेड के 15 कर्मचारियों की ओर से दाखिल याचिका पर सुनवाई कर रही थी.

बीएमसी में नियम बदल कर की गई थी बहाली 

याचिकाकर्ताओं के अनुसार 2011 में बीएमसी ने क्लर्क के पद पर रिक्तियों के विज्ञापन वाला एक सर्कुलर जारी किया था. इसमें चयन परीक्षा के जरिए होना था और चयन के लिए 100 में से न्यूनतम 40 अंक हासिल करने थे. चूंकि याचिकाकर्ता योग्यता मानदंडों को पूरा करते थे इसलिए उन्होंने भी परीक्षा देने का निर्णय किया.

चूंकि बीएमसी में 329 रिक्तियां थीं और 475 परीक्षार्थियों ने न्यूनतम 40 अंक हासिल किए थे इसलिए बीएमसी ने 49 या इससे ज्यादा अंक लाने वाले परीक्षार्थियों को लेने का निर्णय किया. इससे 40 से 48 के बीच अंक लाने के कारण सूची में स्थान पाए लोगों को बाद में नौकरी नहीं मिली.

2014 में आरटीआई के जवाब में पता चला कि बीएमसी में अभी भी क्लर्क के पद रिक्त हैं. इसके बाद 2011 में प्रतिस्पर्धा से बाहर हुए 15 लोगों ने हाईकोर्ट का रुख किया और परीक्षा में निर्धारित अंक लाने के कारण नियुक्त किए जाने की मांग की.

इस पर बीएमसी ने विरोध करते हुए कहा कि तब से ले कर नियमों में काफी बदलाव हो चुके हैं. सुनवाई के बाद अदालत ने याचिका खारिज कर दी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi