S M L

PM मोदी ने की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत, किसानों को मिलेंगे 2-2 हजार रुपए

इसके बाद पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लाभार्थी किसानों से बात भी करेंगे. PM-KISAN के लाभार्थियों की पहली लिस्ट तैयार हो गई है. सरकार 1.2 करोड़ किसानों की लिस्ट तैयार की है

Updated On: Feb 24, 2019 01:51 PM IST

FP Staff

0
PM मोदी ने की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत, किसानों को मिलेंगे 2-2 हजार रुपए

Update 4: पीएम मोदी ने कहा, हमारी सरकार ने MSP पर किसानों की बरसों पुरानी मांग को पूरा किया. रबी और खरीफ की 22 फसलों का समर्थन मूल्य लागत का 50% से अधिक तय किया गया है. मौसम की मार से किसानों को बचाने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना भी बनाई गई है

Update 3: ये तो अभी शुरुआत है.इस योजना के तहत हर वर्ष लगभग 75 हज़ार करोड़ रुपए किसानों के खातों में सीधा पहुंचने वाले हैं. देश के वो 12 करोड़ छोटे किसान, जिनके पास 5 एकड़ या उससे कम भूमि है, उन्हें इसका लाभ मिलेगा: पीएम

Update 2: आजादी के बाद किसानों से जुड़ी ये सबसे बड़ी योजना आज उत्तर प्रदेश की पवित्र धरती से मेरे देश के करोड़ों किसानों भाइयों के आशीर्वाद से शुरुआत हो रही है : पीएम

Update 1: आज का दिन इतिहास में दर्ज होने जा रहा है. लाल बहादुर शास्त्री जी ने जय जवान जय किसान का नारा दिया था. उसी मंत्र को इतने साल बाद किसान के घर तक, किसान के खेत तक, किसान की जेब तक पहुंचाने का काम हो रहा है: पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानी 24 फरवरी को गोरखपुर से 'प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना' (PM-KISAN) की शुरुआत कर दी है. इसके तहत केंद्र सरकार लाभार्थी किसानों के बैंक खाते में दो हजार रुपए की पहली किस्त देगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर स्थित फर्टीलाइजर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया के मैदान में इस योजना का बटन दवाबकर उद्घाटन किया. इसके जरिए किसानों को फर्स्ट इंस्टॉलमेंट के 2,000 रुपए मिलेंगे.

1.2 करोड़ किसानों को मिलेगा लाभ

PM-KISAN के लाभार्थियों की पहली लिस्ट तैयार हो गई है. सरकार 1.2 करोड़ किसानों की लिस्ट तैयार की है, जिनको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पहली किस्त के रूप में 2000 रुपये मिलेंगे.

गोरखपुर में जनसभा को संबोधि करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना से प्रदेश के 2 करोड़ 14 लाख किसान लाभान्वित होने वाले हैं और इस योजना की शुरुआत के लिए आज प्रधानमंत्री ने गोरखपुर की धरती को चुना है. सीएम ने कहा कि अगर 55 सालों की तुलना 55 महीने से की जाए तो 55 महीने इन पर भारी पड़ेंगे. किसान के हित के लिए सुगरकैन को ऐथेनॉल में बदलने की स्वीकृति दी गई है, जिससे किसानों के हितों का ध्यान रखा जाए. प्रधानमंत्री को पूर्वी उत्तर प्रदेश से लगाव है इसलिए काशी को अपना संसदीय क्षेत्र चुना और काशी को जो नई पहचान दी है इसके लिए हम सभी आपके आभारी हैं.

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस बारे में ट्वीट करते हुए कहा, 'प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना' पीएम नरेंद्र मोदी जी द्वारा आज गोरखपुर से प्रारंभ होने जा रही है. यह योजना करोड़ों लघु और सीमांत किसानों के अथक परिश्रम का सम्मान करते हुए उनके जीवन में खुशहाली लाएगी और उनकी आशाओं के पंखों को एक नई उड़ान देगी.'

इससे पहले 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने किसानों, मजदूरों और मिडिल क्लास के लिए बड़ी राहत का ऐलान किया था. केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के जरिए उन किसानों को बड़ा तोहफा दिया था, जिनके पास 2 हेक्टेयर या फिर उससे कम जमीन हो. वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने छोटे किसानों के सपोर्ट के लिए सालाना 6 हजार रुपए देने का ऐलान किया था. ये 6 हजार रुपए  2,000 रुपए की तीन समान किस्तों में लाभान्वित किसानों के बैंक खातों में सीधे ही ट्रांसफर कर दिए जाएंगे. इस कार्यक्रम का वित्त पोषण भारत सरकार द्वारा किया जाएगा.

बजट पेश करते समय बताया गया था कि 4.8 एकड़ वाले किसानों या फिर उससे कम भूमिवाले लगभग 12 करोड़ किसानों को इस योजना का लाभ मिल सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi