S M L

इस खास Google Map में देखिए, #MeToo कैंपेन में डूबा भारत इतना चमकीला क्यों है

बिंदुओं का मतलब कैंपेन के सर्च टर्म हैं. जहां इन्हें सबसे ज्यादा सर्च किया जा रहा है, वहां ज्यादा रोशनी के बिंदू हैं

Updated On: Oct 17, 2018 10:54 AM IST

FP Staff

0
इस खास Google Map में देखिए, #MeToo कैंपेन में डूबा भारत इतना चमकीला क्यों है
Loading...

पिछले साल हॉलीवुड में जब मी टू अभियान शुरू हुआ था, तो इसकी हनक भारत तक भी पहुंची थी, लेकिन इसे भारत में पहुंचने में थोड़ी देर लगी. अब जब एक साल बाद जब अब यहां इस कैंपेन के तहत महिलाओं ने आवाजें उठानी शुरू की हैं, तो अब पूरा देश इस कैंपेन की चपेट में है. देश के कोने-कोने में मी टू की रोशनी पहुंची है और सालों के अंधेरे को मिटाने पर आमादा है.

गूगल ने इस कैंपेन को रोशनी के बिंदुओं के जरिए मापने की कोशिश है. इन बिंदुओं का मतलब कैंपेन के सर्च टर्म हैं. जहां इन्हें सबसे ज्यादा सर्च किया जा रहा है, वहां ज्यादा रोशनी के बिंदू हैं.

गूगल ने मी टू कैंपेन को ग्लोब पर रखकर रोशनी के बिंदुओं के जरिए विजुअलाइज करने की कोशिश की है. और जानते हैं इसकी सबसे खास बात क्या है? इस मैप पर सबसे ज्यादा चमकदार भारत है. भारत की रोशनी के बिंदु ज्यादा चमकदार हैं. पूरा भारत मी टू कैंपेन में डूबा हुआ है. यहां मी टू का सबसे ज्यादा असर दिख रहा है. जबसे भारत में मी टू पहुंचा है, यहां इसके सर्च टर्म पूरे दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जा रहे हैं.

इस विजुअलाइजेशन के पहले एक लाइन लिखी गई है. इसे 1968 में अमेरिकन पोएट और एक्टिविस्ट म्यूरियल रूकीसर ने लिखा था- 'क्या होगा अगर एक महिला अपने जीवन की सच्चाई बता दे. ये दुनिया बिखर जाएगी.'

इस मी टू मूवमेंट में यही हो रहा है. दुनिया भर की महिलाओं ने अपने खिलाफ हुए यौन उत्पीड़न की सच्चाई बताई है और अब पूरी दुनिया इनकी रोशनी में ज्यादा चमक रही है.

गूगल ने इस कैंपेन और इसके ऑनलाइन ट्रेंड्स को ट्रेस करके ग्लोब के जरिए इसकी टाइमलाइन को दिखाया है. गूगल ने 2006 में एक्टिविस्ट टराना बर्क द्वारा मीटू मूवमेंट को अस्तित्व में लाने और अक्टूबर 2017 में इसके वायरल होने के बाद से इस टर्म के सर्च रिजल्ट्स को मैप किया. गूगल ने मी टू राइजिंग के सर्च टर्म का थ्री डी विजुअलाइजेशन किया.

भारत में फिल्म इंडस्ट्री और मीडिया में सबसे ज्यादा इस कैंपेन का असर देखा जा रहा है.

इस स्पिनिंग ग्लोब को नेविगेट करने पर डाटा पॉइंट्स उन जगहों को दिखा रहे हैं, जहां सबसे ज्यादा इस कैंपेन के बारे में सर्च किया जा रहा है. यहां आपको मी टू पर सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं आर्टिकल भी दिखा रहा है. इसके जरिए गूगल ये भी दिखा रहा है कि अगर किसी एक विशेष शहर में ये टर्म सर्च किए जा रहे हैं तो किस संदर्भ में किए जा रहे हैं.

इस विजुअलाइजेशन में गूगल ने यौन हिंसा से बचने के लिए मददगार लिंक्स भी ऐड किए हैं.

सोशल मीडिया पर इस फीचर की काफी प्रशंसा की जा रही है. आप यहां इस मैप को देख सकते हैं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi