S M L

मृणालिनी साराभाई के 100वें जन्मदिन पर गूगल ने डूडल बनाकर किया याद

इस डूडल में साराभाई को दर्पण अकेडमी ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट के ऑडिटॉरियम में छतरी लिए हुए दिखाया गया है.

FP Staff Updated On: May 11, 2018 10:16 AM IST

0
मृणालिनी साराभाई के 100वें जन्मदिन पर गूगल ने डूडल बनाकर किया याद

मशहूर डांसर मृणालिनी साराभाई का आज 100वां जन्मदिन है. इस मौके पर गूगल ने एक बेहद सुंदर डूडल बनाकर उनको श्रद्धांजली दी है. पद्मभूषण से सम्मानित मृणालिनी साराभाई ने महज पांच साल की उम्र में ही खुद को डांसर मान लिया था. नृत्य को लेकर उनके इस प्यार ने आगे चलकर उन्हें एक नई पहचान दिलाई जिसे पूरी दुनिया ने खूब सराहा.

मृणालिनी साराभाई का जन्म 11 मई 1918 को केरल में हुआ था. पिता डॉ. स्वामीनाथन मद्रास हाईकोर्ट में बैरिस्टर थे. मां अम्मू स्वामीनाथन स्वतंत्रता सेनानी थीं, जो बाद में देश की पहली संसद की सदस्य भी थीं. मृणालिनी साराभाई का बचपन स्विटजरलैंड में बीता. यहां  उन्होंने ‘डैलक्रोज’ सीखा. रवींद्रनाथ टैगोर से वो इतनी प्रभावित थीं कि सिर्फ उन्हें ही अपना असली गुरू मानती थीं.

1949 में साराभाई ने पेरिस में डांस किया. उनके डांस को वहां खूब सराहा गया. इसी के बाद उन्हें दुनिया भर से डांस के लिए बुलावा आने लगा.

इस डूडल में साराभाई को दर्पण अकेडमी ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट के ऑडिटॉरियम में छतरी लिए हुए दिखाया गया है. उनके पीछे कुछ डांसर्स क्लासिकल डांस करती हुई दिखाई दी हैं.

दरअसल वो मृणालिनी साराभाई ही थी जिन्होंने क्लासिकल डांस को नई उंचाईयों पर पहुंचाया. उन्होंने करीब 300 से ज्यादा डांस को स्टेज पर कोरियोग्राफ किया. 21 जनवरी 2016 को 97 वर्ण की उम्र में उनका निधन हो गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi