S M L

गोवा मंदिर के पुजारी पर लगा था छेड़छाड़ का आरोप, मंदिर की जांच में नहीं मिला सबूत

पिछले जून में गोवन मूल की एक अमेरिकी लड़की ने श्री मंगेशी मंदिर के पुजारी पर अनुचित व्यवहार का आरोप लगाया था

Updated On: Jul 19, 2018 04:21 PM IST

FP Staff

0
गोवा मंदिर के पुजारी पर लगा था छेड़छाड़ का आरोप, मंदिर की जांच में नहीं मिला सबूत

गोवा के श्री मंगेशी मंदिर के मैनेजमेंट ने कहा है कि उसे मंदिर के उस पुजारी पर लगे आरोपों से जुड़ा कोई भरोसेमंद सबूत नहीं मिला है, जिस पर पिछले जून में गोवन मूल की एक अमेरिकी लड़की ने अनुचित व्यवहार का आरोप लगाया था.

अमेरिका में मेडिकल की स्टूडेंट इस लड़की ने अपने मंदिर की मैनेजिंग कमेटी को दिए गए शिकायत पत्र में कहा था कि वो 22 जून को अपने माता-पिता के साथ दक्षिणी गोवा के मंगेशी गांव के इस मंदिर में गई थी.

उसने बताया कि मंदिर का पुजारी गर्भगृह से बाहर वाली जगह पर आया और प्रदीक्षा देने के लिए लड़की को इशारा करके अपने पास बुलाया. लड़की के पास आने पर उसने उसके कंधे पर हाथ रखकर उसे जोर से गले लगाकर चूमने की कोशिश की. लड़की ने कहा कि ऐसे व्यवहार से वो भौंचक और सन्न रह गई.

उसने बताया कि वो इतनी ज्यादा सदमे में थी कि उसने ये घटना मुंबई जाने के बाद अपनी मां को बताया. उसने कमेटी से ये भी कहा कि जांच के लिए कमेटी को 22 जून के कैमरा फुटेज जरूर देखने चाहिए.

11 जुलाई को श्री मंगेश देवस्थान के सेक्रेटरी अनिल केंकरे ने जवाब दिया कि इस संबंधित शिकायत पर 4 जुलाई को हुए मैनेजिंग कमेटी की इमरजेंसी मीटिंग में चर्चा हुई. जांच के दौरान कमेटी को पुजारी को दोषी साबित करने के लिए कोई सबूत नहीं मिला.  केंकरे ने एक न्यूज एजेंसी के सवाल पर कहा कि मंदिर मैनेजमेंट ने अपना जवाब दे दिया. ये मामला यहीं खत्म है.

दक्षिणी गोवा के मंगेशी गांव स्थित मंगेशी मंदिर में भगवान शिव के अवतार माने जाने वाले भगवान मंगेश की पूजा की जाती है. ये मंदिर राज्य के पर्यटन स्थलों में से एक है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi