S M L

गोवा: कैंसर फैलने के डर से मछली Import पर 6 महीने तक रोक

स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने इस फैसले के बारे में बताते हुए कहा कि, मछली के आयात पर लगी 6 महीने की रोक को और भी 6 महीने के लिए बढ़ाया जा सकता है

Updated On: Nov 11, 2018 11:29 AM IST

FP Staff

0
गोवा: कैंसर फैलने के डर से मछली Import पर 6 महीने तक रोक

गोवा सरकार ने राज्य में मछली के आयात पर 6 महीने के लिए रोक लगा दी है. दरअसल पिछले कुछ समय में गोवा में यह डर फैला है कि मछली को बचाकर रखने के लिए  फॉर्मोलिन का इस्तेमाल किया जा रहा है जो कैंसर होने के खतरे को काफी हद तक बढ़ा देता है. ऐसे में कैंसर फैलने के डर से गोवा सरकार ने शनिवार को ठोस कदम उठाते हुए मछली के आयात पर 6 महीने के लिए रोक लगा दी है.

गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने शनिवार को इस फैसले के बारे में बताते हुए कहा कि, मछली के आयात पर लगी 6 महीने की रोक को और भी 6 महीने के लिए बढ़ाया जा सकता है, जब तक कि राज्य में मछली की क्वालिटी की जांच के लिए उपाय नहीं हो जाते.

राणे ने संवाददाताओं से कहा, ‘जब तक कि ऐसे उपाय (मछली जांचने के लिए) नहीं हो जाते, गोवा में तत्काल प्रभाव से मछली आयात पर रोक रहेगी.’

राज्य में दूसरी बार लगाई जा रही है रोक

राज्य सरकार मछली पर इस साल दूसरी बार रोक लगा रही है. इससे पहले मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने जुलाई में 15 दिन के लिए रोक लगाई थी.

उस रोक को सरकार की तरफ से गोवा में मछली लेकर आने वाले ट्रकों की सीमा पर जांच शुरू करने के बाद हटा लिया गया था.

राणे ने कहा कि राज्य सरकार क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया, एक्सपोर्ट इंस्पेक्शन काउंसिल और भारतीय खाद्य संरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) जैसी केंद्रीय एजेंसियों के साथ जांच प्रयोगशालाएं स्थापित करेगी.

उन्होंने आरोप लगाया कि मछली आयात करने वाले व्यापारी गोवा खाद्य और औषधि प्रशासन के दिशानिर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं.

वहीं शिवसेना की गोवा इकाई ने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार मछली में फार्मोलिन के बारे में लोगों को स्पष्ट जानकारी नहीं दे रही है.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi