S M L

लड़की ने लड़का बन की दो-दो शादियां, 4 साल बाद हुआ खुलासा

कृष्णा का भेद इतने लंबे समय तक इसलिए नहीं खुला क्योंकि उसने अपनी पत्नियों को न तो कभी अपना शरीर छूने दिया और न ही उनके सामने कभी कपड़े बदले

FP Staff Updated On: Feb 15, 2018 02:14 PM IST

0
लड़की ने लड़का बन की दो-दो शादियां, 4 साल बाद हुआ खुलासा

हिंदी फिल्मों की तर्ज पर एक लड़की लड़का बनकर घूमती रही और लोग उसे पहचान ही नहीं पाए. यहां तक कि उसने लड़का बन कर शादी कर ली, वह भी एक नहीं दो. इसके बाद दहेज के लिए उन्हें प्रताड़ित किया और उनसे रुपए ठगे. पीड़ित लड़कियों की शिकायत पर चार महीने तक चली जांच के बाद बुधवार को पुलिस ने आरोपी लड़की को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

काठगोदाम पुलिस के अनुसार यूपी के धामपुर जिला बिजनौर निवासी युवती कृष्णा सेन (26) ने फेसबुक में लड़के की आईडी बनाकर काठगोदाम क्षेत्र निवासी एक युवती को प्रेम जाल में फंसाया. 14 फरवरी 2014 को दोनों ने गाजे-बाजे के साथ शादी रचाकर तिकोनिया क्षेत्र में किराए का घर लेकर रहना शुरू कर दिया. विवाह के बाद ही दोनों में अनबन रहने लगी.

इसी दौरान कृष्णा ने कालाढूंगी तहसील में बल्ब फैक्ट्री लगाने का झांसा देकर ससुराल वालों से 8.50 लाख रुपए ऐंठ लिए. इस बीच कृष्णा ने 29 अप्रैल 2016 को कालाढूंगी निवासी एक और छात्रा को झांसा देकर शादी रचा ली. बाद में दोनों कथित पत्नियों को धमकाकर तिकोनिया स्थित घर में साथ ही रख लिया.

शक होने पर पहली शादी वाली युवती का भाई तिकोनिया से अपनी बहन को घर ले आया. अक्टूबर 2017 में काठगोदाम निवासी लड़की ने कृष्णा पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज करा दिया. करीब चार महीने चली पुलिस की जांच के बाद मंगलवार रात को आरोपी कृष्णा को गिरफ्तार कर लिया गया.

दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज होने पर जब पुलिस ने जांच के बाद कृष्णा को गिरफ्तार किया तो जेल जाने के डर से उसने सच बोल दिया. कृष्णा ने पुलिस के सामने कबूल किया कि वह पुरुष नहीं महिला है. यह सुनकर पुलिस के होश उड़ गए. मेडिकल जांच में उसकी बात सही निकली.

काठगोदाम एसएसआई संजय जोशी ने बताया कि दहेज उत्पीड़न की धाराओं को बदल कर धोखाधड़ी और फर्जी सरकारी दस्तावेज बनाने आदि का मुकदमा दर्ज कर आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया है.

पुलिस के अनुसार कृष्णा का भेद इतने लंबे समय तक इसलिए नहीं खुला क्योंकि उसने अपनी पत्नियों को न तो कभी अपना शरीर छूने दिया और न ही उनके सामने कभी कपड़े बदले. खुद को पुरुष दिखाने के चलते वह शराब और सिगरेट पीती और बाइक में घूमती.

(न्यूज-18 के लिए शैलेंद्र नेगी की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi